सीबीएसई के स्कूलों में कल से शुरू होगा नेशनल रीडिंग मंथ, जानें क्यों है करते हैं सेलिब्रेट

सीबीएसई के स्कूलों में कल से शुरू होगा नेशनल रीडिंग मंथ, जानें क्यों है करते हैं सेलिब्रेट

सीबीएसई के स्कूलों में हर साल नेशनल रीडिंग मंथ का आयोजन किया जाता है। इस साल यानी कि 2021 में भी इस मंथ की शुरुआत कल से यानी कि 19 जून, 2021 से होने जा रही है।इसके तहत सीबीएसई स्कूलों में रीडिंग डे, वीक और मंथ मनाया जाएगा। इस अभियान का मकसद है कि, बच्चों में पढ़ने को लेकर रुचि बढ़े। इसके तहत सीबीएसई के निर्देशानुसार कल से स्कूलों में ऑनलाइन मोड के माध्यम से विभिन्न एक्टिविटी का आयोजन किया जाएगा। छात्रों को किताबें पढ़ने, पढ़कर सीखने की कला को विकसित करने के लिए काम किया जाएगा। इसके लिए फिलहाल की परिस्थितियों को देखते हुए डिजिटल लाइब्रेरी के महत्व को भी समझाया जाएगा।  यह अभियान कल से शुरू होकर 18 जुलाई, 2020 तक चलेगा। बता दें कि इस दिन को केरल के पुस्तकालय आंदोलन के जनक पीएन पैनिकर की पुण्यतिथि के उपलक्ष्य में मनाया जाता है।

बता दें कि पैनिकर का जन्म 1 मार्च, 1909 को हुआ था। वह एक शिक्षक थे। उनका समाज पर काफी प्रभाव था। इसके चलते साल 1945 में 47 ग्रामीण पुस्तकालयों के साथ तिरुविथामकूर ग्रंथशाला संघम की स्थापना मुहिम में उन्होंने नेतृत्व उन्होंने किया था। उनकी एसोसिएशन का नारा था 'पढ़ो और बढ़ो'। इसके बाद में केरल राज्य के गठन के बाद एसोसिएशन का नाम केरल ग्रंथशाला संघम हो गया। उन्होंने केरल के गांव-गांव की यात्रा की और लोगों को पढ़ने के महत्व से अवगत कराया था। इस तरह उन्होंने अपने नेटवर्क में 6,000 से ज्यादा पुस्तकालयों को जोड़ने में सफलता हासिल की। वहीं 1975 में ग्रंथशाला को 'कृपसकय अवॉर्ड' से सम्मानित किया गया था।इसके बाद से ही उनके सम्मान में यह दिन मनाया जाता है। 

वहीं इससे इतर बात करें सीबीएसई बोर्ड 12वीं के रिजल्ट की तो बोर्ड ने बीते दिन यानी कि 17 जून, 2021 को सुप्रीम कोर्ट में मूल्यांकन मानदंड पेश कर दिया है। वहीं जुलाई के अंत तक रिजल्ट जारी कर दिया जाएगा। 


NEAT 2.0 के लिए CareerLabs के साथ साझेदारी करेगा AICTE

NEAT 2.0 के लिए CareerLabs के साथ साझेदारी करेगा AICTE

 अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद् (AICTE) ने देश भर के छात्रों के लिए नीट 2.0 (NEAT 2.0) के लिए बैंगलोर स्थित करियर बिल्डिंग प्लेटफार्म, करियरलैब्स (CareerLabs) के साथ साझेदारी की घोषणा की है। साझेदारी के परिणामस्वरूप, करियरलैब्स का प्रोफाइल बिल्डर लाइट प्रोडक्ट अब नामांकन के लिए पूरे भारत में सभी इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्रों के लिए उपलब्ध होगा।

बता दें कि करियरलैब्स एक मिशन पर है, जो स्टूडेंट्स को बेहतर सीखने और प्रोफाइल निर्माण के एक रणनीतिक और संगठित दृष्टिकोण के माध्यम से बेहतर कमाई करने में सक्षम बनाता है। कंपनी ने 1 मिलियन से अधिक छात्रों को प्लेसमेंट और उच्च अध्ययन में अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने में सक्षम बनाने के मिशन के साथ भारत का पहला प्रोफाइल बिल्डर प्लेटफॉर्म लॉन्च किया है। साझेदारी स्टूडेंट्स को भारत में कहीं से भी दूरस्थ रूप से एक ही मंच पर रोजगार योग्य कौशल और प्लेसमेंट के लिए योग्यता विकसित करने की अनुमति देगी। स्टूडेंट्स अपनी सुविधानुसार गुणवत्तापूर्ण शिक्षा अध्यापन तक पहुंच सकेंगे।

यह योजना समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के चुनिंदा छात्र-छात्राओं के लिए नि:शुल्क उपलब्ध होगी। गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को समाज के सभी वर्गों तक पहुंचाने के लिए छात्रवृत्ति की पहल की गई है। नि:शुल्क सीटों का आवंटन शैक्षणिक संस्थानों द्वारा एनईएटी पोर्टल पर उपलब्ध कराई गई जानकारी के आधार पर होगा। प्रारंभ में पोर्टल को केवल भारत के एआईसीटीई अनुमोदित सरकारी कॉलेजों में पायलट चरण के रूप में लॉन्च किया जाएगा।



मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मुख्य समन्वय अधिकारी, अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई), बुद्ध चंद्रशेखर ने साझेदारी के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि एआईसीटीई देश भर में स्टूडेंट्स की प्रोफाइल बिल्डिंग को बढ़ावा देने के लिए करियरलैब्स के साथ साझेदारी करके खुश है। इससे स्टूडेंट्स को रोजगार योग्य बनने में मदद मिलेगी। उन्होंने आगे कहा कि आत्मनिर्भर भारत की दिशा में योगदान करने के लिए NEAT 2.0 के तहत इसकी पहल की गई है।