अगर 40 साल से ऊपर हैं तो यहां से कर सकते हैं लॉ और मैनेजमेंट की पढ़ाई

अगर 40 साल से ऊपर हैं तो यहां से कर सकते हैं लॉ और मैनेजमेंट की पढ़ाई

 आमतौर पर मिड-कैरियर क्राइसिस से ऐसे प्रोफेशनल गुजरते हैं जिन्होंने अपनी रूचि या क्षमता के अनुसार कैरियर का चुनाव नहीं किया और लगभग 10 वर्षों तक किसी एक प्रोफेशन में रहने के बावजूद या तो वे अपनी प्रोफाइल से संतुष्ट नहीं होते या उनकी ग्रोथ सीमित हो चुकी होती है। सामान्यत: अपने वर्तमान जॉब या प्रोफेशन को स्विच करते हुए नये कैरियर की इच्छा और उसके लिए प्रयास शुरू करने वाले प्रोफेशनल्स की आयु 40 वर्ष या अधिक भी हो जाती है। ऐसे में आमतौर पर इन प्रोफेशनल्स के लिए नया कोर्स करने, विशेषतौर पर वर्तमान जॉब में रहते हुए ऑनलाइन मोड से करने की जरूरत बड़ी हो जाती है। ज्यादातर संस्थानों में कोर्सेस में दाखिला फ्रेश ग्रेजुएट्स को दिया जाता है। यदि मिड-कैरियर क्राइसिस में आपने लॉ या मैनेजमेंट में आगे कैरियर बनाने का सोचा है और नहीं जानते हैं कि कौन से संस्थान 40 वर्ष से अधिक प्रोफेशनल्स के लिए कोर्स कराते हैं और कहां से ऑनलाइन मोड में कोर्स किये जा सकते हैं, तो आइए हम आपकी थोड़ी मदद कर देते हैं।

40 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लिए लॉ की पढ़ाई

देश के शीर्ष (सरकारी एवं निजी) विधि संस्थानों में विभिन्न यूजी और पीजी कार्यक्रमों में आमतौर पर दाखिला कॉमन लॉ ऐडमिशन टेस्ट (क्लैट) के माध्यम से दिया जाता है। स्नातक डिग्री लॉ कोर्सेस में दाखिले के लिए कोई अधिकतम आयु सीमा नहीं है इसलिए सीधे क्लैट यूजी प्रवेश परीक्षा में सम्मिलित हो सकते हैं और स्कोर के आधार पर निर्धारित कॉलेज मे दाखिला ले सकते हैं। इन सस्थानों में आमतौर पर ऑफलाइन क्लासेस आयोजित की जाती हैं, लेकिन वर्तमान में कोरोना महामारी के चलते फिलहाल ऑनलाइन कक्षाएं आयोजित हो रही हैं। साथ ही, देश भर में उच्च शिक्षा में लागू की जा रही नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अंतर्गत ऑनलाइन क्लासेस का भी विकल्प दिया जाना है।


लॉ की ऑनलाइन पढ़ाई

यदि परंपरागत लॉ कोर्सेस में दाखिला नहीं चाहते हैं और कुछ शॉर्ट टर्म कोर्सेस घर बैठे ऑनलाइन करना चाहते हैं तो भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय के अभियान स्वयं (स्टडी वेब्स ऑफ एक्टिव-लर्निंग फॉर यंग एस्पायरिंग माईंड्स-SWAYAM) पोर्टल, swayam.gov.in पर उपल्ध कराये गये सम्बन्धित शॉर्ट टर्म लॉ कोर्सेस ऑनलाइन मोड में ज्वाईन कर सकते हैं। इन कोर्सेस की अवधि अधिकतम 24 सप्ताह तक है। इन कोर्सेस को देश के शीर्ष संस्थानों, जैसे नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी दिल्ली, आईआईटी खड़गपुर, आईआईटी मद्रास, आदि द्वारा ऑफर किया जाता है और ये सभी कोर्स फ्री में संचालित हैं।


प्रमुख फ्री ऑनलाइन लॉ कोर्सेस

ऐडेमिनिस्ट्रेटिव लॉ
एक्सेस टू जस्टिस
आंत्रप्रेन्योरशिप एण्ड आईपी स्ट्रेटेजी
पेटेंट ड्राफ्टिंग फॉर बिगनर्स
पेटेंट लॉ फॉर इंजीनियर्स
राइट टू इंफॉर्मेशन एण्ड गुड गवर्नेंस
40 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लिए मैनेजमेंट की पढ़ाई

लॉ की तरह ही प्रबंधन पाठक्रम भी मिड-कैरियर क्राइसिस से गुजर रहे प्रोफेशनल्स की पंसद होती है। लॉ की सबसे बड़ी प्रवेश परीक्षा क्लैट की तरह ही मैनेजमेंट की सबसे बड़ी प्रवेश परीक्षाओं में से एक कॉमन ऐडमिशन टेस्ट (कैट) के लिए भी कोई अधिकतम आयु नहीं हैं। यदि आप निर्धारित क्वालिफिकेशन रखते हैं तो मैनेजमेंट एंट्रेंस टेस्ट - कैट में सम्मिलित हो सकते हैं और कैट स्कोर के आधार पर आवंटित कॉलेज में दाखिला ले सकते हैं। इन कोर्सेस में आमतौर पर फिजिकल क्लासेस अटेंड करनी होती हैं, लेकिन महामारी को देखते हुए फिलहाल ऑनलाइन क्लासेस का भी विकल्प है। नई शिक्षा नीति के लागू होने के बाद ऑनलाइन क्लासेस का भी विकल्प दिया जाना है।

मैनेजमेंट की ऑनलाइन पढ़ाई

दूसरी तरफ, यदि शॉर्ट टर्म ऑनलाइन मैनेजमेंट कोर्सेस करना चाहते हैं तो इसके भी विकल्प स्वयं पोर्टल, swayam.gov.in पर मौजूद हैं। आईआईएम बैंगलोर, आईआईटी खड़गपुर, आईआईटी रूड़की, आईआईटी बॉम्बे, इग्नू, आदि द्वारा ऑफर किये जा रहे इन कोर्सेस की अवधि अधिकतम 24 सप्ताह तक है और हां, ये सभी ऑनलाइन कोर्स फ्री हैं।

प्रमुख फ्री ऑनलाइन मैनेजमेंट कोर्सेस

मैट परीक्षा के रिजल्ट्स जुलाई के पहले सप्ताह में होंगे जारी
AIMA MAT 2021 Result: जुलाई के पहले सप्ताह में घोषित होंगे MAT परीक्षा के नतीजे, चेक करें अपडेट्स
यह भी पढ़ें
ऐडवांस्ड कॉर्पोरेट स्ट्रेटेजी
फाइनेंशियल एकाउंटिंग
डिजिटल मार्केटिंग
बिजनेस एनालिटिक्स एवं डाटा माइनिंग
बिजनेस ऑर्गेनाइजेशन एण्ड मैनेजमेंट
एनजीओ मैनेजमेंट
मैनेजमेंट फंक्शंस
बिजनेस रिसर्च मेथड्स
कंज्यूमर विहैवियर
कॉर्पोरेट फाइनेंस
कॉर्पोरेट सोशल रिप्सॉन्सिबिलिटी


कामधेनु गोविज्ञान प्रचार प्रसार परीक्षा 2021 स्थगित, राष्ट्रीय कामधेनु आयोग ने जारी किया अपडेट

कामधेनु गोविज्ञान प्रचार प्रसार परीक्षा 2021 स्थगित, राष्ट्रीय कामधेनु आयोग ने जारी किया अपडेट

कामधेनु गोविज्ञान प्रचार प्रसार परीक्षा 2021 को स्थगित कर दिया गया है। परीक्षा का आयोजन 25 फरवरी 2021 को किया जाना था। परीक्षा आयोजित करने वाले भारत सरकार के मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय के अधीन राष्ट्रीय कामधेनु आयोग (आरकेए) द्वारा गोविज्ञान परीक्षा को स्थगित किये जाने से सम्बन्धित अपडेट शनिवार, 20 फरवरी 2021 को जारी किया गया। आयोग के अपडेट के अनुसार गोविज्ञान परीक्षा 2021 के अभ्यास के लिए आयोजित किये जाने वाले मॉक टेस्ट को भी स्थगित कर दिया गया है। हालांकि, आयोग की तरफ से परीक्षा के आयोग की नई तिथि की घोषणा फिलहाल नहीं की गयी है। परीक्षार्थी परीक्षा के अपडेट के लिए आयोग की ऑफिशियल वेबसाइट, kamdhenu.gov.in पर विजिट कर सकते हैं।

ऑनलाइन करें रजिस्ट्रेशन

इस बीच कामधेनु गोविज्ञान प्रचार प्रसार परीक्षा 2021 के लिए रजिस्ट्रेशन करने के इच्छुक आयोग की ऑफिशियल वेबसाइट पर उपलब्ध कराये गये ऑनलाइन अप्लीकेशन फॉर्म के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। उम्मीदवारों को आयोग के पोर्टल पर विजिट करने के बाद परीक्षा के रजिस्ट्रेशन से सम्बन्धित लिंक पर क्लिक करना होगा। इसके बाद नये पेज पर मांगे गये विवरणों को भरकर उम्मीदवार अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।


चार स्तरों पर होगी कामधेनु गोविज्ञान प्रचार प्रसार परीक्षा

कामधेनु गोविज्ञान प्रचार प्रसार परीक्षा 2021 का आयोजन चार स्तरों पर किया जाना है – प्राइमरी लेवल (8वीं तक के छात्रों के लिए), सेकेंड्री लेवल (9वीं से 12वीं तक स्टूडेंट्स के लिए), कॉलेज लेवल (12वीं के बाद के कक्षाओं के लिए) और जनरल पब्लिक। परीक्षा में भाग लेने के लिए सभी छात्र-छात्राओं को आयोग की तरफ से प्रोत्साहन प्रमाण पत्र दिया जाना है। परीक्षा की तैयारी के लिए परीक्षार्थी आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध कराये गये स्टडी मैटेरियल का सहारा ले सकते हैं।