मोदी सरकार की ये योजना, किसानों को मिलेगी पेंशन

मोदी सरकार की ये योजना, किसानों को मिलेगी पेंशन

नई दिल्ली: किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) की ओर से कई योजनाएं चलाई जा रही हैं। इनमें से एक है, प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (PM Kisan Maan Dhan Scheme)। इस स्कीम के तहत किसानों को हर महीने पेंशन दी जाती है। योजना के तहत 60 साल की उम्र के बाद पेंशन का प्रावधान है। इस स्कीम से 21 लाख से ज्यादा किसान जुड़ चुके हैं।

कितनी मिलती है किसान को पेंशन?
इस पेंशन फंड का प्रबंधन भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) द्वारा किया जा रहा है। इस योजना में 18 से 40 साल तक की उम्र का कोई भी किसान हिस्सा ले सकता है। बताते चलें कि इस योजना में उम्र के हिसाब से प्रति माह अंशदान करने पर 60 की उम्र के बाद मंथली तीन हजार रुपये या सालाना 36 हजार रुपये पेंशन मिलती है। तो चलिए जानते हैं आप कैसे इस योजना का लाभ उठा सकते हैं-

जानिए इस स्कीम के बारे में
प्रधानमंत्री किसान मान धन योजना में जिन किसानों के पास खेती के लिए अधिकतम 2 हेक्टेयर तक जमीन है, वो हिस्सा ले सकते हैं। इस स्कीम में भाग लेने के लिए किसान की आयु 18 से 40 वर्ष तक होनी चाहिए। इस योजना के तहत न्यूनतम 20 साल और अधिकतम 40 साल तक 55 रुपये से 200 रुपये तक मासिक अंशदान करना होता है।


किसान और सरकार का बराबर योगदान
इस स्कीम के तहत किसान और सरकार का बराबर योगदान होगा। यानी अगर किसान का योगदान PM Kisan Maan Dhan अकाउंट में 55 रुपये है तो सरकार भी 55 रुपये का योगदान खाते में करेगी। इस योजना का फायदा उठाने के लिए सबसे पहले किसान को नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा।

ऐसे कराएं अपना रजिस्ट्रेशन
योजना में रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए आपको अपने आधार कार्ड (Aadhar Card) और खसरा खतियान की नकल ले जानी होगी। इसके अलावा दो पासपोर्ट साइज की फोटो और बैंक का पासबुक भी ले जाना होगा। रजिस्ट्रेशन के दौरान किसान को पेंशन यूनिक नंबर और पेंशन कार्ड बना दिया जाएगा। बता दें कि इसके लिए अलग से कोई चार्ज नहीं लगता है।


बिना आवेदन खाते में आए पैसेः PM किसान योजना में आई कुछ गड़बड़ी, इनको मिले रुपए

बिना आवेदन खाते में आए पैसेः PM किसान योजना में आई कुछ गड़बड़ी, इनको मिले रुपए

नई दिल्ली: केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Scheme) के तहत देश भर के किसानों के लिए सातवीं किश्त जारी कर दी है। बता दें कि इस योजना के तहत देश के किसानों को सालाना तीन किश्तों में 6 हजार रुपये की मदद दी जाती है। ये राशि सीधे किसानों के बैंक अकाउंट (Bank Account) में ट्रासंफर की जाती है। लेकिन इस बीच इस स्कीम में फर्जीवाड़ा की घटनाएं सामने आ रही हैं।

UIDAI और TRAI के पूर्व चीफ के खाते में भेजे गए पैसे
इस योजना के तहत उन लोगों के खाते में भी पैसे पहुंचने की खबरें आ रही हैं, जो अपात्र हैं। पीएम किसान योजना के तहत उन लोगों के भी बैंक अकाउंट में पैसे पहुंच रहे हैं, जिन्होंने कभी भी अपने आपको रजिस्टर्ड ही नहीं कराया है। एक ऐसी ही ताजा खबर आई है, जिसमें पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत UIDAI और TRAI के पूर्व चीफ राम सेवक शर्मा के खाते में छह हजार रुपये भेजे गए हैं।

कभी स्कीम में नहीं कराया रजिस्ट्रेशन
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, IDAI और TRAI के पूर्व चीफ राम सेवक शर्मा (Ram Sewak Sharma) के स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) बैंक अकाउंट में साल में तीन बार पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत छह हजार रुपये आ चुके हैं। जबकि शर्मा ने कभी भी इस योजना के लिए अपना नाम रजिस्टर ही नहीं कराया था। शर्मा ने कहा कि उन्होंने इस स्कीम में रजिस्ट्रेशन नहीं कराया, फिर भी उनका रजिस्ट्रेशन हो गया। इसकी जिम्मेदारी राज्य सरकार की है, सरकार ने बिना पहचान किए कैसे वेरिफिकेशन कर दिया।

अब अकाउंट को किया गया डिएक्टिवेट
रिपोर्ट में राम सेवक शर्मा के हवाले से बताया गया है कि इस साल उनके बैंक अकाउंट में दो हजार की तीन किश्तें आई हैं। उनके नाम से यह खाता आठ जनवरी, 2020 को खोला गया थी और करीब नौ महीने तक एक्टिव रहा। यह 24 सितंबर को डीएक्टिवेट हो गया है। शर्मा ने बताया कि वो यूपी के फिरोजाबाद जिले में एक किसान के तौर पर रजिस्टर्ड थे। उनके जिस खाते में पैसे आए थे, वह एक हिंदू अविभाजित परिवार का अकाउंट है, जिसका इस्तेमाल कृषि उपज और व्यय की बिक्री आय प्राप्त करने के लिए किया जाता था।

इससे पहले भी हो चुकी है गड़बड़ी
शर्माा को जब इस बात की जानकारी हुई तो उन्होंने इस बारे में बैंक को सूचित किया, हालांकि अब तक इसका कोई जवाब नहीं आया है। लेकिन शर्मा के नाम से बने खाते को डिएक्टिवेट कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि वो इस स्कीम के तहत पैसे पाने योग्य नहीं है, क्योंकि वो इनकम टैक्स भरते हैं। बता दें कि इससे पहले भी इस तरह की गड़बड़ी सामने आ चुकी है। जब किसी दूसरे के अकाउंट में रकम भेज दी ई है।


इस गांव में पिछले 9 सालों से नहीं पैदा हुआ कोई लड़का, लड़का होने पर मिलता है इनाम       यहां अस्थि कलश के लॉकर भी हुए हाउसफुल, मोक्ष कलश योजना से जाएंगे हरिद्वार       22 बच्चों की मां ने औनलाइन शेयर किया दर्द       यहां पति के मरते ही नर्क हो जाती है महिला की जिंदगी       हाथ लगा 11 हजार वर्ष पुराना अनमोल 'खजाना', अमेरिका में गोताखोरों की खुली किस्‍मत       कोरोना कहर के चलते यूजीसी ने लिया बड़ा फैसला, मई में होने वाली सभी ऑफलाइन परीक्षाओं पर लगाई रोक       पीजीटी के पदों के लिए परीक्षा की तारीखें घोषित       आईआईटी दिल्ली ने गेट काउंसलिंग की स्थगित, यहां पढ़ें पूरी जानकारी       एडमिशन टेस्ट के लिए 29 मई तक आवेदन का मौका, ऐसे करें अप्लाई       फॉरेन मेडिकल ग्रेजुएट एग्जामिनेशन रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख आज       एमपी यूनिवर्सिटी ने यूजी और पीजी सेमेस्टर फाइनल परीक्षाओं की तारीखें की घोषित       बिना विलंब शुल्क के आवेदन करने की आखिरी तारीख कल, फौरन करें अप्लाई       ऑफिस अटेंडेंट परीक्षा के नतीजे जल्द होंगे घोषित, ऐसे कर सकेंगे चेक       फाइनल और इंटरमीडिएट परीक्षाओं के लिए आवेदन की आखिरी तारीख आज, जल्द करें अप्लाई       यूपी बोर्ड हाई स्कूल और इंटर बोर्ड परीक्षाओं पर जल्द होगा फैसला, छात्र कर रहे हैं रद्द करने की मांग       इस दिन भेजी जाएगी पीएम किसान योजना की सातवीं किस्त, मिलेंगे 2000 रुपये       रंग-बिरंगी विरासत का शानदार नमूना है जौनपुर       जयपुर की शान है खूबसूरत नाहरगढ़ किला है, एक बार ज़रूर जाये       प्राकृतिक संसाधनो से भरपूर राज्य झारखण्ड जैसे झरने और कही...       मिलेगी शांति और सुकून भरी राहत के लिए एक बार ज़रूर जाये