PM Kisan के 1.38 करोड़ घट गए लाभार्थी, इस तरह से करें चेक

PM Kisan के 1.38 करोड़ घट गए लाभार्थी, इस तरह से करें चेक

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अनुसार आने वाली सातवीं किस्त अबतक नहीं आई है. हर चार महीने पर मिलने वाली  2000 रुपये की किस्त किसानों के खाते में एक दिसंबर से आने की आसार थी, लेकिन कई राज्यों में इस योजना के अनुसार फर्जीवाड़े की खबरें आई थीं. इसको देखते हुए लाभार्थियों की संख्या 11 करोड़ 35 लाख से घटकर 9 करोड़ 97 लाख रह गई है.

पीएम किसान पोर्टल पर दो दिन पहले यह संख्या 11 करोड़ 35 लाख थी. यही नहीं किस्त-दर-किस्त योजना का फायदा लेने वाले किसानों की संख्या घटती जा रही है. पीएम किसान पोर्टल के अनुसार पहली किस्त  10.52 करोड़ किसानों को मिली थी, वहीं दूसरी किस्त  9.97 करोड़, तीसरी  9.05 करोड़, चौथी  7.83 करोड़ और पांचवीं किस्त 6.58 करोड़ किसानों तक पहुंची, जबकि छठी किस्त पाने वाले किसानों की संख्या केवल  3.84 करोड़ रह गई है. ऐसे में सातवीं किस्त पाने वाले किसानों की संख्या इससे कम रह सकती है.

क्यों हो रही कमी

अब केन्द्र और प्रदेश सरकार फर्जीवाड़ा करने वाले किसानों से पैसे वसूलने की तैयारी कर रही है. बता दें कि महाराष्ट्र में आयकर चुकाने वाले लाखों किसानों को पीएम किसान सम्मान योजना के अनुसार सालाना 6000 रुपये दे दिए गए. जबकि, इस योजना का फायदा केवल वही किसान उठा सकते हैं, जिनके पास अपनी जमीन है और वे आयकर नहीं भरते हैं. इसका फायदा उन किसानों को भी नहीं मिलेगा, जिन्हें 10 हजार रुपये मासिक पेंसन या डिविडेंड मिलता है.

अपात्र लोग उठा रहे थे फायदा

टीओआई की रिपोर्ट के अनुसार महाराष्ट्र में ऐसे 2.30 लाख किसानों को सम्मान निधि का भुगतान कर दिया गया है, जो कर भरते हैं. जाँच में यह केस सामने आया है कि ऐसे किसानों को कुल 208.5 करोड़ रुपये दे दिए गए. अब सरकार इनसे इस राशि वसूलने जा रही है. वहीं तमिलनाडु में 5.95 लाख लाभार्थियों के खातों की जाँच की गई, जिसमें से 5.38 लाख फर्जी निकले. ऐसे लोगों से सरकार वसूली कर रही है.  ऐसी ही फर्जीवाड़े की समाचार कई अन्य राज्यों से भी मिली है, जिसमें लाखों अपात्र किसान इस योजना का फायदा ले रहे थे.

नई लिस्ट में ऐसे चेक करें अपना नाम

  • वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाएं. 
  • होम पेज पर मेन्यू बार देखें और यहां ‘फार्मर कार्नर’ पर जाएं. 
  • यहां ‘लाभार्थी सूची’ के लिंक पर क्लिक करें.
  • इसके बाद अपना राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव विवरण दर्ज करें
  • इतना भरने के बाद Get Report पर क्लिक करें और पाएं पूरी लिस्ट

लिस्ट में नाम न होने पर इस नंबर पर करें शिकायत: कई लोगों के नाम पिछली लिस्ट में था, लेकिन नयी लिस्ट में नहीं है तो इसकी कम्पलेन आप पीएम किसान सम्मान के हेल्पलाइन नंबर पर दर्ज करा सकते हैं. इसके लिए आप हेल्पलाइन नंबर 011-24300606 पर कॉल कर सकते हैं. 

आइए जानें और किन-किन लोगों को इस योजना का फायदा नहीं मिलेगा

1-जो लोग खेती की जमीन का इस्तेमाल कृषि काम की स्थान दूसरे कामों में कर रहे हैं. बहुत से किसान दूसरों के खेतों पर किसानी का कार्य तो करते हैं, लेकिन खेत के मालिक नहीं होते. ऐसे किसान इस योजना का फायदा नहीं उठा सकते.

2-यदि कोई किसान खेती कर रहा है, लेकिन खेत उसके नाम नहीं है तो उसे इस योजना का फायदा नहीं मिलेगा. यदि खेत उसके पिता या दादा के नाम है  तब भी वे इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते.

3-अगर कोई खेती की जमीन का मालिक है, लेकिन वह सरकारी कर्मचारी है या रिटायर हो चुका हो, मौजूदा या पूर्व सांसद, विधायक, मंत्री उन्हें पीएम किसान योजना का फायदा नहीं मिलता. प्रोफेशनल रजिस्टर्ड डॉक्टर, इंजिनियर, वकील, चार्टर्ड एकाउंट ेंट  या इनके परिवार के लोगों को भी  इस योजना का लाभ नहीं मिलता.

:  

4-अगर कोई आदमी खेत का मालिक है, लेकिन उसे 10000 रुपये महीने से अधिक पेंशन मिलती है, वह इस योजना के लाभ पाने वाले नहीं हो सकते. वहीं आयकर चुकाने वाले परिवारों को भी इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा.


बिना आवेदन खाते में आए पैसेः PM किसान योजना में आई कुछ गड़बड़ी, इनको मिले रुपए

बिना आवेदन खाते में आए पैसेः PM किसान योजना में आई कुछ गड़बड़ी, इनको मिले रुपए

नई दिल्ली: केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Scheme) के तहत देश भर के किसानों के लिए सातवीं किश्त जारी कर दी है। बता दें कि इस योजना के तहत देश के किसानों को सालाना तीन किश्तों में 6 हजार रुपये की मदद दी जाती है। ये राशि सीधे किसानों के बैंक अकाउंट (Bank Account) में ट्रासंफर की जाती है। लेकिन इस बीच इस स्कीम में फर्जीवाड़ा की घटनाएं सामने आ रही हैं।

UIDAI और TRAI के पूर्व चीफ के खाते में भेजे गए पैसे
इस योजना के तहत उन लोगों के खाते में भी पैसे पहुंचने की खबरें आ रही हैं, जो अपात्र हैं। पीएम किसान योजना के तहत उन लोगों के भी बैंक अकाउंट में पैसे पहुंच रहे हैं, जिन्होंने कभी भी अपने आपको रजिस्टर्ड ही नहीं कराया है। एक ऐसी ही ताजा खबर आई है, जिसमें पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत UIDAI और TRAI के पूर्व चीफ राम सेवक शर्मा के खाते में छह हजार रुपये भेजे गए हैं।

कभी स्कीम में नहीं कराया रजिस्ट्रेशन
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, IDAI और TRAI के पूर्व चीफ राम सेवक शर्मा (Ram Sewak Sharma) के स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) बैंक अकाउंट में साल में तीन बार पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत छह हजार रुपये आ चुके हैं। जबकि शर्मा ने कभी भी इस योजना के लिए अपना नाम रजिस्टर ही नहीं कराया था। शर्मा ने कहा कि उन्होंने इस स्कीम में रजिस्ट्रेशन नहीं कराया, फिर भी उनका रजिस्ट्रेशन हो गया। इसकी जिम्मेदारी राज्य सरकार की है, सरकार ने बिना पहचान किए कैसे वेरिफिकेशन कर दिया।

अब अकाउंट को किया गया डिएक्टिवेट
रिपोर्ट में राम सेवक शर्मा के हवाले से बताया गया है कि इस साल उनके बैंक अकाउंट में दो हजार की तीन किश्तें आई हैं। उनके नाम से यह खाता आठ जनवरी, 2020 को खोला गया थी और करीब नौ महीने तक एक्टिव रहा। यह 24 सितंबर को डीएक्टिवेट हो गया है। शर्मा ने बताया कि वो यूपी के फिरोजाबाद जिले में एक किसान के तौर पर रजिस्टर्ड थे। उनके जिस खाते में पैसे आए थे, वह एक हिंदू अविभाजित परिवार का अकाउंट है, जिसका इस्तेमाल कृषि उपज और व्यय की बिक्री आय प्राप्त करने के लिए किया जाता था।

इससे पहले भी हो चुकी है गड़बड़ी
शर्माा को जब इस बात की जानकारी हुई तो उन्होंने इस बारे में बैंक को सूचित किया, हालांकि अब तक इसका कोई जवाब नहीं आया है। लेकिन शर्मा के नाम से बने खाते को डिएक्टिवेट कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि वो इस स्कीम के तहत पैसे पाने योग्य नहीं है, क्योंकि वो इनकम टैक्स भरते हैं। बता दें कि इससे पहले भी इस तरह की गड़बड़ी सामने आ चुकी है। जब किसी दूसरे के अकाउंट में रकम भेज दी ई है।


इस गांव में पिछले 9 सालों से नहीं पैदा हुआ कोई लड़का, लड़का होने पर मिलता है इनाम       यहां अस्थि कलश के लॉकर भी हुए हाउसफुल, मोक्ष कलश योजना से जाएंगे हरिद्वार       22 बच्चों की मां ने औनलाइन शेयर किया दर्द       यहां पति के मरते ही नर्क हो जाती है महिला की जिंदगी       हाथ लगा 11 हजार वर्ष पुराना अनमोल 'खजाना', अमेरिका में गोताखोरों की खुली किस्‍मत       सेंट्रल रेलवे ने सीनियर रेजिडेंट के पदों पर निकली वैकेंसी, ऐसे होगा सेलेक्शन       लेखा विभाग गोवा में निकली 109 एकाउंटेंट की भर्ती, इस दिन से करें ऑनलाइन आवेदन       सीडैक नोएडा में 119 प्रोजेक्ट मैनेजर और इंजीनियर पदों के लिए आवेदन का कल आखिरी दिन       नेशनल एंट्रेंस स्क्रीनिंग टेस्ट के लिए आवेदन की लास्ट डेट नजदीक       डीएसएसएसबी भर्ती परीक्षा स्थगित, DSSSB ने dsssb.delhi.gov.in पर जारी किया नोटिफिकेशन       नॉर्थ ईस्ट फ्रंटियर रेलवे में इन पदों पर निकली वैकेंसी, 11 मई को होगा इंटरव्यू       आईआईटी मंडी में जूनियर इंजीनियर और स्पोर्ट्स ऑफिसर सहित अन्य 43 पदों पर निकली भर्तियां       टाटा मेमोरियल सेंटर, वाराणसी में निकली पंप ऑपरेटर और फायरमैन की भर्ती       यहां निकली है राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की भर्ती, 166 पदों के लिए आवेदन 31 मई तक       ऑयल इंडिया लिमिटेड में निकली 119 असिस्टेंट मेकेनिक और अन्य पदों की भर्ती       कोरोना कहर के चलते यूजीसी ने लिया बड़ा फैसला, मई में होने वाली सभी ऑफलाइन परीक्षाओं पर लगाई रोक       पीजीटी के पदों के लिए परीक्षा की तारीखें घोषित       आईआईटी दिल्ली ने गेट काउंसलिंग की स्थगित, यहां पढ़ें पूरी जानकारी       एडमिशन टेस्ट के लिए 29 मई तक आवेदन का मौका, ऐसे करें अप्लाई       फॉरेन मेडिकल ग्रेजुएट एग्जामिनेशन रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख आज