इन किसान परिवारों को नहीं मिलेगा इस योजना का लाभ, जानें इसकी वजह

इन किसान परिवारों को नहीं मिलेगा इस योजना का लाभ, जानें इसकी वजह

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM-KISAN) किसानों के बीच बेहद लोकप्रिय स्कीम है। इस योजना की शुरुआत 2019 में हुई थी। इस स्कीम का लक्ष्य सभी जोत वाले किसानों को अतिरिक्त आय उपलब्ध कराना है। इस स्कीम के तहत सरकार लाभार्थी किसानों को हर वित्त वर्ष में 6,000 रुपये की नकद सहायता उपलब्ध कराती है। ऐसे में सरकार हर चार माह पर लाभार्थी किसानों के बैंक खातों में 2,000 रुपये की रकम सीधे ट्रांसफर करती है। हालांकि, सरकार द्वारा तय की गई कुछ शर्तों की वजह से कुछ किसान परिवार इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं। हालांकि, अब जोत भूमि के आकार की सीमा समाप्त हो गई है।

पीएम किसान योजना की जब शुरुआत हुई थी तो इसका लाभ केवल ऐसे किसानों को मिल सकता था, जिनके पास कुल दो हेक्टेयर तक की कृषि योग्य जमीन हो। इसका मतलब है कि यह स्कीम छोटे एवं सीमांत किसान परिवारों तक सीमित थी। हालांकि, जून 2019 में इस स्कीम से जुड़ी शर्तों में संशोधन किया गया है और कृषि योग्य भूमि के आकार से जुड़ी बाध्यता खत्म कर दी गई। इसका मतलब है कि अगर आपके पास ज्यादा जमीन है तो भी आपको इस योजना का लाभ मिलेगा।


हालांकि, इसके बावजूद कुछ ऐसे कृषक परिवार हैं, जिन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिल सकता हैः

संस्थागत किसान इस स्कीम का लाभ नहीं उठा सकते हैं। 
अगर कोई व्यक्ति किसी संवैधानिक पद पर आसीन है या रह चुका है और खेती-किसानी करता है तो उसे इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा। 
राज्य या केंद्र सरकार या पब्लिक सेक्टर कंपनी या सरकारी स्वायत्त संगठनों के सेवारत या सेवानिवृत्त कर्मचारी (मल्टी टास्किंग या ग्रुप डी या चतुर्थवर्गीय कर्मचारियों को छोड़कर)
10,000 रुपये से ज्यादा की मासिक पेंशन प्राप्त करने वाले लोगों को इस योजना का लाभ नहीं मिल सकता है। हालांकि यह नियम भी मल्टी टास्किंग, ग्रुप डी या चतुर्थवर्गीय कर्मचारियों पर लागू नहीं होता है। 
पिछले असेसमेंट वर्ष में आयकर भरने वाले लोग इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं।
डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, चार्टर्ड अकाउंट और प्रोफेशनल संगठनों के साथ रजिस्टर्ड आर्किटेक्ट्स PM Kisan योजना के तहत लाभ उठाने के पात्र नहीं हैं।   


​​​​​​​PM kisan Samman Nidhi Yojna: सातवीं किस्त आने में हो रही है देरी

​​​​​​​PM kisan Samman Nidhi Yojna: सातवीं किस्त आने में हो रही है देरी

पीएम किसान की 7वीं किस्त का इन्तजार करोड़ों किसान कर रहे हैं. हालांकि, किसान आंदोलन के बीच किसानों को पीएम किसान योजा की तीसरी किस्त मिलने में देरी हो सकती है. ज्यादातर किसानों के खाते में महीने के शुरुआती 10 से 15 दिनों में पैसा ट्रांसफर कर दिया जाता है लेकिन इस बार अभी तक किस्त ट्रांसफर नहीं हुई है.

पीएम किसान का पैसा अप्रैल, अगस्त और दिसंबर में आता है लेकिन इस बार अभी तक किसानों के खाते में पीएम-किसान की किस्त नहीं पहुंची है. इस वर्ष पहली दो किस्त 15 दिन के भीतर किसानों के खाते में ट्रांसफर कर दी गई थी.

ऐसे चेक कर सकते हैं अपना स्टेटस

अगर आप पीएम किसान पोर्टल पर अपना स्टेटस चेक कर रहे हैं तो इसमें FTO is Generated and Payment confirmation is pending का मैसेज दिखाई दे रहा है, तो परेशान न हों. इसका मतलब होता है कि सरकार ने आपके द्वारा दी गई जानकारी को कन्फर्म कर लिया है और अब जल्द ही आपके एकाउंट में पैसे ट्रांसफर हो जाएंगे. आपकी किस्त जल्द ही आपके बैंक खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी. FTO  की फुल फॉर्म Fund Transfer Order है. इसका मतलब हैं कि “राज्य सरकार द्वारा लाभ पाने वाले के आधार नंबर, बैंक खाता संख्या और बैंक के IFSC कोड सहित अन्य विवरणों की शुद्धता सुनिश्चित कर ली गई हैं”. आपकी किस्त राशि तैयार हैं और सरकार द्वारा इसे आपके बैंक खाते में भेजने के आदेश दे दिए गए हैं.

क्या है Rft Signed by State का मतलब

वहीं जब आप पीएम किसान सम्मान निधि की वेबसाइट (https://pmkisan.gov.in/) पर जाकर अपना पेमेंट स्टेटस चेक ( Installment Payment Status) करते हैं तब कई बार आपको  Rft Signed by State for 1st, 2nd, 3rd, 4th, 5th या 6th instalment लिखा दिखता होगा. यहां Rft की फुलफार्म Request For Transfer हैं. इसका मतलब हैं कि 'राज्य सरकार द्वारा लाभ पाने वाले के डेटा की जाँच कर ली गई है, जो की ठीक पाया गया है.' इसके बाद प्रदेश सरकार केन्द्र से निवेदन करती है की लाभ पाने वाले के खाते में पैसे भेजे जाएं.


इस गांव में पिछले 9 सालों से नहीं पैदा हुआ कोई लड़का, लड़का होने पर मिलता है इनाम       यहां अस्थि कलश के लॉकर भी हुए हाउसफुल, मोक्ष कलश योजना से जाएंगे हरिद्वार       22 बच्चों की मां ने औनलाइन शेयर किया दर्द       यहां पति के मरते ही नर्क हो जाती है महिला की जिंदगी       हाथ लगा 11 हजार वर्ष पुराना अनमोल 'खजाना', अमेरिका में गोताखोरों की खुली किस्‍मत       सेंट्रल रेलवे ने सीनियर रेजिडेंट के पदों पर निकली वैकेंसी, ऐसे होगा सेलेक्शन       लेखा विभाग गोवा में निकली 109 एकाउंटेंट की भर्ती, इस दिन से करें ऑनलाइन आवेदन       सीडैक नोएडा में 119 प्रोजेक्ट मैनेजर और इंजीनियर पदों के लिए आवेदन का कल आखिरी दिन       नेशनल एंट्रेंस स्क्रीनिंग टेस्ट के लिए आवेदन की लास्ट डेट नजदीक       डीएसएसएसबी भर्ती परीक्षा स्थगित, DSSSB ने dsssb.delhi.gov.in पर जारी किया नोटिफिकेशन       नॉर्थ ईस्ट फ्रंटियर रेलवे में इन पदों पर निकली वैकेंसी, 11 मई को होगा इंटरव्यू       आईआईटी मंडी में जूनियर इंजीनियर और स्पोर्ट्स ऑफिसर सहित अन्य 43 पदों पर निकली भर्तियां       टाटा मेमोरियल सेंटर, वाराणसी में निकली पंप ऑपरेटर और फायरमैन की भर्ती       यहां निकली है राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की भर्ती, 166 पदों के लिए आवेदन 31 मई तक       ऑयल इंडिया लिमिटेड में निकली 119 असिस्टेंट मेकेनिक और अन्य पदों की भर्ती       कोरोना कहर के चलते यूजीसी ने लिया बड़ा फैसला, मई में होने वाली सभी ऑफलाइन परीक्षाओं पर लगाई रोक       पीजीटी के पदों के लिए परीक्षा की तारीखें घोषित       आईआईटी दिल्ली ने गेट काउंसलिंग की स्थगित, यहां पढ़ें पूरी जानकारी       एडमिशन टेस्ट के लिए 29 मई तक आवेदन का मौका, ऐसे करें अप्लाई       फॉरेन मेडिकल ग्रेजुएट एग्जामिनेशन रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख आज