पार्टनर के साथ मॉनसून सीजन को एन्जॉय करने के लिए परफेक्ट हैं ये डेस्टिनेशन्स

पार्टनर के साथ मॉनसून सीजन को एन्जॉय करने के लिए परफेक्ट हैं ये डेस्टिनेशन्स

काले बादलों से पटा आसमान, अचानक बारिश और गीली धरती की खुशबू - मानसून ने आखिरकार भारत में दस्तक दे दी है, पहाड़ियों और पर्वत में हरी-भरी हरियाली बिछने लगती है, झीलें चमचमाते पानी से भर जाती हैं, झरनों के नज़ारों से आपको अतुल्य भारत से प्यार हो जाता है। मानसून के दौरान क्या घूमने जाएं आपको परेशान कर सकता है। भारत के जंगलों को घूमने का यह सही समय होता है। यह मौसम देश के कुछ लोकप्रिय जगहों को घूमने के लिए बेस्ट है। तो चाहे आप एक बैकपैकर हो या एक लक्जरी यात्री, यहां उन स्थानों की एक सूची है जो मानसून में तुरंत घूमने के लिए एकदम सही हैं।

लोनावला, महाराष्ट्र

लोनावाला एक खूबसूरत हिल स्टेशन है जो सह्याद्री पर्वत की गोद में स्थित है, यह पुणे से लगभग 65 किमी और मुंबई से 80 किलोमीटर दूर है। मॉनसून इस छोटे से शहर का आनंद लेने के लिए सबसे अच्छा समय है। लोनावाला न केवल सुंदर है, बल्कि आपको एक लुभावने दृश्य के लिए टाइगर्स लीप की लंबी पैदल यात्रा, एक आश्चर्यजनक सनसेट स्पॉट के लिए लॉयन्स पॉइंट, राजमाची किला, तिकोना- एक पुराना किला का आनंद लेने की सुविधा देता है, आप विसापुर किले को भी देख सकते हैं। यदि आप एक जल प्रेमी हैं, तो भूषी बांध और पावना बांध की यात्रा करना न भूलें।

कूर्ग, कर्नाटक

कूर्ग को आलीशान हरियाली और चाय बागानों की वजह से भारत का स्कॉटलैंड भी कहा जाता है। कूर्ग को उनके दर्शनीय स्थलों, अनेक प्रकार के वन्य जीवों और खासतौर से कोडाव के लिए जाना जाता है, जो कूर्ग के योद्धा कबीले थे। देखने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से कुछ हैं अब्बी फॉल्स, मदिकेरी किला, इरुपा फॉल्स, हरंगी डैम। और अगर आपको राफ्टिंग और ट्रेकिंग जैसे साहसिक पानी के खेलों का आनंद लेना पसंद है, तो सुंदर चेलवर, बारापोल नदी आपको मानसून के दौरान एक अद्भुत अनुभव प्रदान करती है।

मुन्नार, केरल

प्रकृति की सुंदरता के प्रतीक के रूप में, दक्षिण भारत का यह छोटा सा शहर मानसून के मौसम में घूमने के लिए परफेक्ट डेस्टिनेशन्स में से एक है। प्रकृति के हरे-भरे पेड़ों और शांति के बीच अपना समय बिताना चाहते हैं तो यहां आएं। केरल अपने आयुर्वेदिक उपचार और मसाज के लिए भी मशहूर है। नमी, धूल मुक्त मौसम शरीर को शांत करने के लिए एक अच्छा काम करता है। मुन्नार खूबसूरत नजारों, सनसेट और झीलों को देखने के लिए काफी अच्छी जगह है।

उदयपुर, राजस्थान

उदयपुर भारत के ऐतिहासिक स्थानों में से एक है, यहां देश में सबसे सुंदर वास्तुकलाओं में से कुछ मौजूद है। गर्मियों के दौरान यह सबसे गर्म स्थानों में से एक है। राजस्थान के अधिकांश शहरों के विपरीत, उदयपुर मानसून के दौरान सुखद लगता है। मानसून का मौसम झीलों के 'शहर' को जीवंत करता है। नाव की सवारी शाम को होती है जब महल की लाइटिंग उदयपुर में देखने लायक सबसे सुंदर चीजों में से एक है। सिटी पैलेस, मानसून पैलेस, बैगोर की हवेली, उदयपुर महल, मोर चौक शहर की सबसे पसंदीदा जगहों में से कुछ हैं, जो राजस्थान की विरासत, संस्कृति और परंपराओं को प्रदर्शित करते हैं।

फूलों की घाटी, उत्तराखंड

फूलों की घाटी ज़ंस्कार और पश्चिमी और पूर्वी हिमालय पर्वतमाला के मिलन बिंदु पर स्थित एक सुंदर जगह है। यह स्थान अपने विभिन्न प्रकार के वनस्पति के लिए लोकप्रिय है जो मानसून के मौसम के दौरान खिलते हैं। 400 से अधिक प्रकार के फूल हैं जो मानसून के दौरान वर्ष में एक बार खिलते हैं। हिम तेंदुए, भूरे भालू और कस्तूरी मृग जैसी दुर्लभ और लुप्तप्राय प्रजातियों को भी यहां देखा जा सकता है। यह ट्रेकर्स के लिए भी एक अद्भुत जगह है, जो ट्रेकिंग करते समय दृश्य का आनंद लेते हैं।


जानिए, मीठे से लेकर तीखे तक की यहां मिलेगी ढेरों वैराइटी, मिस न करें महाराष्ट्र के ये जायके

जानिए, मीठे से लेकर तीखे तक की यहां मिलेगी ढेरों वैराइटी, मिस न करें महाराष्ट्र के ये जायके

खाने की बात आए तो इंडिया की हर एक जगह अपनी कुछ न कुछ खासियत बटोरे हुए है। उत्तर भारत से लेकर दक्षिण भारत तक हर एक जगह का खानपान अलग होने के साथ ही इतना खास है कि एक बार खाने के बाद आप उसे भूल नहीं पाएंगे। महाराष्ट्र का खानपान भी कुछ ऐसा ही नहीं। यहां की ज्यादातर डिशेज़ स्वाद में खट्टी-मीठी होती हैं जो लोगों को बहुत पसंद आती हैं। पोहा या हो मिसल पाव या फिर रगड़ा पेटीज़, इनकी लोकप्रियता का अंदाजा आप गुजरात, लखनऊ और दिल्ली आकर भी देख सकते हैं। तो एक नज़र डालेंगे यहां के जायकों पर।कढ़ी

कढ़ी, महाराष्ट्रियन खानपान का बहुत ही खास हिस्सा है। जिसकी ग्रेवी काबुली चने से तैयार की जाती है और कई सारे सब्जियों को मिलाकर बनता है इसका पकौड़ा। ग्रेवी को स्वादिष्ट बनाने के लिए इसमें दही मिक्स किया जाता है। स्वाद के लिहाज से ही नहीं, इस डिश को गर्मियों में लोग हेल्दी रहने के लिए भी खाते हैं। कढ़ी के साथ चावल परोसा जाता है लेकिन कुछ लोग इसे मूंगदाल खिचड़ी के साथ भी एन्जॉय करते हैं। 

बासुंदी

ये एक स्वीट डिश है। इसमें दूध को धीमी आंच पर बहुत देर तक पकाया जाता है जब तक कि वो आधा न रह जाए। इसके बाद इसमें चीनी, इलायची और केसर मिक्स किया जाता है जो इसका स्वाद दोगुना कर देता है। वैसे इसे और भी कई तरीकों से बनाया जाता है जिसमें कस्टर्ड एप्पल बासुंदी और अंगूर बासुंदी बहुत मशहूर है।

महाराष्ट्रियन दाल

महाराष्ट्र में बनने वाली इस दाल की दूर तक फैली खुशबू ही भूख को बढ़ाने के लिए काफी होती है। खासतौर से विदर्भ में बनने वाली इस दाल को अब गोवा और कर्नाटक में भी बहुत चाव के साथ बनाया और खाया जाता है। इसे एक या दो नहीं बल्कि 51 अलग-अलग तरीकों से बनाया जाता है। जो सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है। 

पिठला भाखरी

यहां इसे किसानों का खाना कहते हैं। इसे बनाने में न ही बहुत ज्यादा चीज़ों की जरूरत होती है और न ही समय की। पिठला को चावल के साथ सर्व किया जाता है जो थोड़ा लिक्विड रूप में होता है। ड्राय पिठला रोटी के साथ बहुत ही अच्छा लगता है।

पोहा

सुबह हो या शाम नाश्ते में सर्व करने के लिए पोहा है परफेक्ट डिश। पोहे को कई तरीकों से बनाया जाता है जिसमें सबसे ज्यादा मशहूर है कांदा पोहा, जिसे बहुत सारे प्याज के साथ बनाया जाता है।  इसके अलावा बटाटा पोहा जिसमें आलू के टुकड़े होते हैं। एक और दूसरे तरह का पोहा जिसे नारियल, हरी मिर्च, अदरक और नींबू के रस से बनाया जाता है। सुबह होते ही यहां के दुकानों पर पोहा बनना शुरू हो जाता है। जो लाइट और हेल्दी होता है।

भारली वांगी

वैसे तो ये भरवां बैगन होते हैं लेकिन इन्हें बनाने का तरीका और स्वाद काफी अलग होता है। नारियल, प्याज, गुड़ और मराठी मसाले से तैयार होता है इसका भरावन। बैंगन का स्वाद हर किसी को पसंद नहीं आता लेकिन भारली वांगी का स्वाद चखने के बाद आप इसे भूल नहीं पाएंगे।

रगड़ा पेटिस

ये महाराष्ट्र का बहुत ही मशहूर स्ट्रीट फूड है। सूखी मटर से बनने वाली रगड़ा ग्रेवी को चटनी, बारीक कटे प्याज, टमाटर, सेव और हरी धनिया के साथ सजाकर परोसा जाता है। स्ट्रीट फूड के अलावा आप बड़े-बड़े रेस्टोरेंट्स में भी इसका स्वाद ले सकते हैं। 

मिसल पाव

मिसल पाव भी यहां नाश्ते में सर्व की जाने वाली डिश है। महाराष्ट्र के अलावा पुणे और मुंबई के लोगों की भी पसंदीदा डिश में शामिल है मिसल पाव। चटपटी और मसालेदार सब्जी को पाव के साथ परोसा जाता है। मिसल को स्वाद और पसंद के हिसाब से कई तरीकों से बनाया जाता है। पुनेरी मिसल, नागपुरी मिसल, कोल्हापुरी मिस और मुंबई मिसल उनमें से एक है।

पूरन पोली

अगर आपको पराठे खाना पसंद हैं तो महाराष्ट्र आकर पूरन पोली का स्वाद लेना बिल्कुल न भूलें। जिसमें गुड़, चना दाल, इलायची की स्टफिंग होती है। त्योहार और उत्सवों में बनने वाली इस डिश को नाश्ते से लेकर लंच या डिनर में कभी भी खाया जा सकता है।    

 तो महाराष्ट्र के खूबसूरत नजारे देखने के साथ ही यहां के जायकों को चखना बिल्कुल न भूलें खासतौर से स्ट्रीट फूड्स को क्योंकि ये रेस्टोरेंट के मुकाबले कहीं अधिक स्वादिष्ट होते हैं।