क्या आपको पता हैं तुर्की की मस्जिद हागिया सोफिया से जुड़े अनसुलझे रहस्य

क्या आपको पता हैं तुर्की की मस्जिद हागिया सोफिया से जुड़े अनसुलझे रहस्य

कमाल अतातुर्क को आधुनिक तुर्की का निर्माता कहा जाता है। कमाल ने तुर्की के स्वर्णिंम विकास के लिए सामाजिक, राजनीतिक व आर्थिक व्यवस्था में आमूल-चूल परिवर्तन किया। उनके इन प्रयासों में एक बड़ा प्रयास हागिया सोफिया मस्जिद को संग्रहालय में तब्दील करना भी है। इससे पहले हागिया सोफिया इमारत का पुनर्निर्माण कई बार किया गया। इस इमारत की कहानी बहुत पुरानी है। आइए, हागिया सोफिया के बारे में जानते हैं कि इसका निर्मणा कब और कैसे हुआ -

इस शहर को कस्न्निया कहा जाता था

इतिहास के अनुसार, हागिया सोफिया इमारत का निर्माण सन 360 में हुआ था, जिसे आयासोफ़िया भी कहा जाता है। उस समय यह चर्च था। तब इस शहर को कस्न्निया कहा जाता था जो कि वर्तमान में इस्तांबुल के नाम से प्रसिद्ध है। यह दुनिया की सबसे खूबसूरत शहरों में से एक है। ऐसा कहा जाता है कि छठी शताब्दी में यह इमारत कई बार दंगे की भेंट चढ़ गया, जिनसे इस इमारत को काफी नुकसान हुआ।

यह दुनिया के प्रमुख चर्चों में से एक था

हागिया सोफिया इमारत के निर्माण के बाद तकरीबन 1 हजार साल तक यह दुनिया के प्रमुख चर्चों में से एक था। इसके बाद 15 वीं शताब्दी में उस्मान बिजान्तिनों ने इस शहर पर आक्रमण कर अपना अधिकार जमा लिया। उस समय इस चर्च को मस्जिद में तब्दील कर दिया गया। इस दौरान कई बार यह इमाारत दंगे, विवाद और भूकंप के चपेट में आता रहा, जिनसे इमारत को काफी नुकसान पहुंचा। हालांकि, हर बार इसका पुनर्निर्माण कराया गया।

कमाल अतातुर्क की मृत्यु 1938 में हुई

जब कमाल अतातुर्क ने तख्तापलट किया तो उन्होंने इस इमारत को संग्रहालय घोषित कर दिया। इतिहास में कमाल अतातुर्क को तुर्की का जनक माना जाता है। उसकी मृत्यु 1938 में हो गई। इसके बाद 1953 में हागिया सोफिया इमारत को मस्जिद में तब्दील कर दिया गया। आज यह इमारत मस्जिद रूप में इस्तांबुल में स्थित है। इस इमारत में मेहराब स्थापित किया गया है जो मक्का की दिशा को निर्देशित करता है।


कोरोना काल में घूमने के लिए परफेक्ट हैं महाराष्ट्र की ये जगहें

कोरोना काल में घूमने के लिए परफेक्ट हैं महाराष्ट्र की ये जगहें

महाराष्ट्र अरब सागर और पश्चिम घाट के लिए देशभर में लोकप्रिय है। साथ ही महाराष्ट्र में  मुंबई, पुणे, लोनावला और नागपुर जैसे कई खूबसूरत शहर हैं, जो राज्य की खूबसूरती में चार चांद लगा जाते हैं। बॉलीवुड के लिए मशहूर मुंबई को महाराष्ट्र का दिल कहा जाता है। वहीं, इस शहर को देश की आर्थिक राजधानी भी कहा जाता है। हालांकि, महाराष्ट्र में कई ऐसे पर्यटन स्थल हैं, जो अपनी खूबसूरती के लिए दुनियाभर में पॉपुलर है। अगर आप भी समर सीजन में घूमने का प्लानिंग कर रहे हैं, तो महाराष्ट्र की इन शहरों की यात्रा कर सकते हैं। आइए जानते हैं-

माथेरान

माथेरान एक हिल स्टेशन है। यह महाराष्ट्र राज्य में स्थित है। अगर आप घूमने की प्लानिंग कर रहे हैं, तो माथेरान जरूर जाएं। कम बजट में पैसा वसूल जगह है। माथेरान में 30 से अधिक लुकआउट पॉइंट है। जहां से आप आसपास के जगहों का दीदार कर सकते हैं।


खंडाला

अक्सर आपने हिंदी फिल्मों में खंडाला का नाम सुना होगा। यह खूबसूरत हिल स्टेशन है। लोनावला से इसकी दूरी महज 3 किलोमीटर है। यह हिल स्टेशन सह्याद्रि पहाड़ी पर स्थित है। यहां पर आप हाईकिंग का भी आनंद उठा सकते हैं। इसके लिए Duke’s Nose स्पॉट पर जा सकते हैं।

गुहागर

यह जगह रत्नागिरी में स्थित है। वीकेंड हॉलिडे के लिए यह परफेक्ट डेस्टिनेशन है। बहुत कम लोगों को गुहागर बीच के बारे में पता है। अल्फोंसो आम के लिए रत्नागिरी दुनियाभर में प्रसिद्ध है। हिंदी में इसे हापुस कहा जाता है। बहुत कम लोग यहां आते हैं। इसके लिए कोरोना काल में गुहागर बेस्ट डेस्टिनेशन है।  

राजमाची

राजमाची एक किला है, जो लोनावला के नजदीक है। यहां से आप सह्याद्रि सीमा और Shirota जलप्रपात को देख सकते हैं। राजमाची पर ट्रैकिंग करना बेहद आसान है और किले की चोटी पर पहुंचने के लिए सिर्फ 40 मिनट ही लगते हैं। इसके लिए दो गुफाएं हैं।


10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं और विश्वविद्यालयों की यूजी परीक्षाएं 17 मई तक स्थगित       10वीं और 12वीं की परीक्षाओं को लेकर CISCE जल्द कर सकता है फैसला, समीक्षा जारी       0वीं परीक्षा को कैंसिल करने के लिए सीबीएसई के फैसले का अध्ययन करेगी महाराष्ट्र सरकार       यूजीसी नेट दिसंबर 2020 के लिए जल्द जारी होंगे एडमिट कार्ड, ऐसे कर सकेंगे डाउनलोड       परमाणु उर्जा विभाग में 52 असिस्टेंट, ड्राइवर और स्टाइपेंड ट्रेनी की भर्ती, इस दिन से करें आवेदन       कोरोना के बढ़ते कहर को देखते हुए छात्रों ने नीट पीजी परीक्षा स्थगित करने की उठाई मांग, 18 अप्रैल को होना है एग्जाम       सीबीएसई के बाद अब हरियाणा सरकार ने भी 10वीं परीक्षा की कैंसिल,12 के एग्जाम स्थगित       स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड में ड्राइवर की 50 रिक्तियों के लिए आवेदन आमंत्रित, इस दिन से करें अप्लाई       PM Kisan: जल्द खाते में आएगी पीएम किसान की आठवीं किस्त       PM Awas Yojana: चंद मिनटों में चेक कर सकते हैं अपने आवेदन का स्टेटस       रजिस्ट्रेशन की लास्ट डेट नजदीक, जल्द करें अप्लाई       बढ़ी आवेदन की आखिरी तारीख, मिलिट्री इंजीनियर सर्विसेस में 502 पदों के लिए अब 17 अप्रैल तक करें आवेदन       809 पदों के लिए आवेदन का आखिरी दिन कल, दिल्ली अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड भर्ती अपडेट       कोल इंडिया में 86 पदों की निकली एक और भर्ती, ऐसे करें आवेदन, आखिरी तारीख 30 अप्रैल       तय शेड्यूल पर होंगी राजस्थान बोर्ड और REET 2021 परीक्षा, अध्यक्ष ने दी जानकारी       मध्य प्रदेश बोर्ड ने 10वीं और 12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षाओं की तारीखें की घोषित, करें चेक       JNU: जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में फिलहाल ऑनलाइन कक्षाएं रहेगी जारी       बिहार बोर्ड 12वीं की कंपार्टमेंट परीक्षा 29 अप्रैल से होगी शुरू, जल्द जारी होंगे प्रवेश पत्र       किसानों की तारीफ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ताजा बयान, आप भी पढ़ें       रॉयल हॉलिडे मनाने के लिए राजस्थान का यह शहर है बेहद खास