200 से भी ज्यादा स्नो लेपर्ड का घर है, हेमिस नेशनल पार्क

200 से भी ज्यादा स्नो लेपर्ड का घर है, हेमिस नेशनल पार्क

हेमिस राष्ट्रीय उद्यान भारत के जम्मू और कश्मीर में पूर्वी लद्दाख क्षेत्र का सबसे ज्‍यादा ऊंचाई पर स्थित एक राष्ट्रीय उद्यान है। यह भारत में हिमालय के उत्तर में बना इकलौता राष्ट्रीय उद्यान है। हेमिस भारत में सबसे बड़ा अधिसूचित संरक्षित क्षेत्र और नंदा देवी बायोस्फ़ियर रिजर्व और आसपास के संरक्षित क्षेत्रों के बाद दूसरा सबसे बड़ा संरक्षित क्षेत्र है। यह नेशनल पार्क कई रेयर स्तनधारियों की प्रजातियों सहित हिम तेंदुओं के लिए भी जाना जाता है।

सन् 1981 में ये पार्क महज 600 स्क्वेयर किमी में फैला था जो 1988 में बढ़कर 3,350 स्क्वेयर किमी हुआ और 1990 में 4,400 स्क्वेयर किमी। फिलहाल ये दक्षिण एशिया के सबसे बड़े नेशनल पार्क में से एक है।

हेमिस नेशनल पार्क में पेड़-पौधों की वैराइटी

हेमिस नेशनल पार्क चारों ओर से पाइन, घास के मैदान और छोटी-छोटी झाड़ियों से घिरा हुआ है। यहां कम बारिश होने की वजह से सूखे जंगल भी मौजूद हैं। वेरोनिका, कोबरेशिया, केरेक्स, जेंटियाना और कई ऐसे पेड़-पौधे मौजूद हैं। इनके अलावा 15 अलग-अलग तरह के लुप्तप्राय औषधीय पौधे भी यहां पाए जाते हैं।

हेमिस नेशनल पार्क में जीव-जंतु

हेमिस नेशनल पार्क में 200 से ज्यादा स्नो लेपर्ड मौजूद हैं। इनके अलावा तिब्बतन भेड़िए, लाल लोमड़ी, यूरेशियन भूरे भालू, हिमालयन चूहे, मरमोथ और भी कई जीव-जंतु पाए जाते हैं। स्तनधारियों की 16 और पक्षियों की लगभग 73 प्रजातियों को यहां देखा जा सकता है। जिनमें से गोल्डेन ईगल, हिमालयन ग्रिफॉन वल्चर, रॉबिन एसेंटर, चूकर, ब्लैक विंग्ड स्नोफिंच, हिमालयन स्नोकॉक आसानी से देखे जा सकते हैं। पार्क के अंदर छोटे-छोटे कई गांव भी हैं।

कब आएं

मई से अक्टूबर का महीना हेमिस नेशनल पार्क घूमने के लिए है बेस्ट।

कैसे जाएं

यहां से नियरेस्ट एयरपोर्ट हेमिस नेशनल पार्क लेह कुशोक बकुला रिम्पोची एयरपोर्ट है, जो लेह जिले में स्थित है। यहां से आप कैब या टैक्सी ले सकते हैं। ट्रेन से जाना हो तो आप यहां से नियरेस्ट रेलवे स्टेशन जम्मूतवी एक्सप्रेस है, जहां से आगे के लिए टैक्सी या कैब ले सकते हैं।


17 फरवरी से पर्यटक कर सकेंगे स्पीति घाटी की सैर, जानें

17 फरवरी से पर्यटक कर सकेंगे स्पीति घाटी की सैर, जानें

देवों की भूमि उत्तराखंड से पर्यटकों के लिए बड़ी खुशखबरी आ रही है। खबरों की मानें तो लंबे समय के बाद 17 फरवरी से स्पीति घाटी को पर्यटकों के लिए खोल दिया जाएगा। इस बात की पुष्टि  The Spiti Tourism Society की तरफ से जारी आधिकारिक बयान से होती है, जिसमें कहा गया है कि पंचायत, ट्रेवल एजेंट्स, महिला मंडलस, होटल के ऑनर और समाजिक नेताओं ने संयुक्त रूप से पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए स्पीति घाटी को खोलने का निर्णय लिया है। The Spiti Tourism Society की तरफ से जारी बयान में यह भी कहा गया है कि पिछले एक साल से घाटी पर्यटकों के बिना सूना है। कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या में कमी और सरकार द्वारा टीकाकरण अभियान शुरू करने के बाद घाटी एकबार फिर से पर्यटकों के स्वागत के लिए तैयार है। हालांकि, कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए गाइडलाइंस तैयार किया गया है। पर्यटकों को नियमों का पालन करना होगा। आइए गाइडलाइंस जानते हैं-


-पर्यटकों का किब्बर और किब्बर वाइल्डलाइफ हैबिटेट में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। गांव वालों ने कोरोना काल में पर्यटकों को गांव में आने और ठहरने की अनुमति नहीं दी है।

-घाटी में आने वाले सभी पर्यटकों की RAT/RT-PCR टेस्ट अनिवार्य है। यह टेस्ट अधिकृत लैब अथवा हॉस्पिटल की वैध मानी जाएगी। यह जिम्मेदारी टूर ऑपरेटर्स की होगी कि RAT/RT-PCR टेस्ट वाले पर्यटकों को ही घाटी पर लाएं।

- घाटी पहुंचने से 72 से 96 घंटे पहले RAT/RT-PCR टेस्ट ही मान्य होगा।

 -स्पीति घाटी में आने वाले अकेले पर्यटक, चालक के साथ आने वाले पर्यटकों को सरकारी अस्पताल में रैपिड टेस्ट के लिए रिपोर्ट करना पड़ेगा।

-होटल्स और घर पर ठहरने देने वाले लोगों को यह सुनिश्चित करना होगा कि पर्यटक पूरी तरह से स्वस्थ हैं और पर्यटक में फ्लू आदि के लक्षण नहीं पाए गए हैं। इसके बाद ही प्रवेश की अनुमति दी जाए।

- किसी भी कीमत पर समाजिक दूरी का हर समय पालन करना होगा। पर्यटकों को ठहरने वाले स्थान से बाहर निकलने पर मास्क पहनना अनिवार्य है।

-पर्यटकों को खुद की और स्थानीय लोगों की सेहत और सुरक्षा का ख्याल रखना पड़ेगा। 


कोरोना काल में किसानों की खुशहाली और उन्नति के लिए योगी सरकार ने किया काम       इग्नू ने जनवरी सेशन के लिए री-रजिस्ट्रेशन की तारीख फिर आगे बढ़ाई       रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया आज से शुरू, 11 अप्रैल को होगी परीक्षा       जुलाई सेशन के लिए इंस्टीट्यूट ऑफ नेशनल इंपोर्टेंस कंबाइंड एंट्रेंस टेस्ट का रजिस्ट्रेशन शुरू       राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा के लिए हॉल टिकट जारी, करें डाउनलोड       सीबीएसई बोर्ड ने 12वीं अकाउंट्स के पेपर से जुड़ा जारी किया ये जरूरी नोटिफिकेशन       AIMA MAT 2021: पेपर बेस्ड टेस्ट के लिए रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख बढ़ी       NIOS: तीसरी, पांचवीं और आठवीं कक्षाओं में पढ़ाई जाएगी प्राचीन भारतीय ज्ञान परंपरा       टेक्निशियन लिखित परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी, उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन जल्द घोषित करेगा एग्जाम डेट       इग्नू ने जनवरी सेशन के लिए री-रजिस्ट्रेशन की तारीख फिर आगे बढ़ाई, करें चेक       ट्रेड्समैन कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी, इस डायरेक्ट लिंक से करें डाउनलोड       ACF और RFO के पदों के लिए इंटरव्यू कॉल लेटर व शेड्यूल uppsc.up.nic.in पर जारी, करें चेक       सीबीएसई बोर्ड की प्रैक्टिकल परीक्षाएं शुरू       6वीं, 9वीं और 11वीं कक्षाओं में दाखिले के लिए आवेदन शुरू, विद्यालयीय प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन 31 मार्च तक       13 मार्च से आयोजित होने वाली असिस्टेंट इंजीनियर परीक्षा स्थगित       जेईई मेन मार्च सत्र के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू, आवेदन करते वक्त ध्यान में रखें ये नियम       गेट परीक्षा ‘आंसर की’ करेक्शन के लिए विंडो ओपेन, 4 मार्च तक ऑनलाइन करायें आपत्ति दर्ज       कंपनी सचिव जून परीक्षा के लिए आवेदन शुरू, फाउंडेशन, एग्जीक्यूटिव और प्रोफेशनल के लिए रजिस्ट्रेशन       आवेदन का आज आखिरी दिन, दिसंबर 2020 की यूजीसी नेट परीक्षा मई में       एनटीए ने फेज 1 परीक्षा के लिए ‘आंसर की’ जारी किये, ऐसे करें डाउनलोड