उत्तर प्रदेश में दो करोड़ किसानों को जल्द मिलेगी 8वीं किश्त

उत्तर प्रदेश में दो करोड़ किसानों को जल्द मिलेगी 8वीं किश्त

लखनऊ: पीएम किसान सम्मान निधि (PM Kisan Samman Nidhi) के अनुसार यूपी के 2 करोड़ 16.लाख 67 हजार किसानों को शीघ्र ही 2000 रुपये की आठवीं किश्त (Eight Installment) मिलेगी प्रदेश सरकार संबंधित किसानों का डाटा लॉक कर इसे भुगतान की संस्तुति के लिए केन्द्र सरकार को भेज रही है मालूम हो कि केन्द्र सरकार इस योजना के अनुसार हर पात्र किसान को दो-दो हजार रुपए की बराबर किश्तों में वर्ष भर में 6000 रुपये देती है यह पैसा ऐसे समय दिया जाता है, जब रबी, खरीफ (Rabi-Kharif) और जायद की फसलों में कृषि निवेश के लिए किसानों को इसकी बहुत आवश्यकता होती है

योजना की घोषणा साल 2019 में हुई थी और उसी वर्ष दिसंबर के महीने से लागू कर दी गई थी किसानों के हित की इस बहुत महत्वाकांक्षी योजना पर हर वर्ष केन्द्र सरकार को 75000 करोड़ रुपये खर्च करने होते हैं यूपी देश का सर्वाधिक आबादी वाला प्रदेश है कृषि ही यहां के अधिकतर लोगों की रोजी-रोटी का जरिया है स्वाभाविक रूप से किसानों की संख्या भी सर्वाधिक है लिहाजा इस योजना का सर्वाधिक फायदा भी उप्र को मिला है अब तक प्रदेश के 23523000 किसानों को दो-दो हजार की सात किश्तें मिल चुकी हैं

केंद्र सरकार किसानों के एकाउंट में भेजती है पैसा
पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम के अनुसार पैसे तभी दिए जाते हैं, जब प्रदेश सरकार आवेदन करने वाले किसान के रेवेन्यू रिकॉर्ड, आधार नंबर और बैंक एकाउंट नंबर को ठीक पाकर उसे वेरीफाई कर दे कृषि स्टेट सबजेक्ट होने की वजह से फायदा तब तक नहीं मिलता है, जब तक प्रदेश सरकार उस रिकॉर्ड को वेरीफाई नहीं कर दें प्रदेश सरकार के वेरीफाई करने के बाद FTO जेनरेट होता है और केन्द्र सरकार पैसा एकाउंट में डाल देती है

-सबसे पहले आपको पीएम किसान (PM Kisan) की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर विजिट करना होगा यहां आपको राइट साइड पर Farmers Corner का ऑप्शन दिखेगा

- इसके बाद Beneficiary Status में क्लिक करने पर एक नया पेज खुलेगा इस नए पेज में आधार नंबर, बैंक एकाउंट नंबर, मोबाइल नंबर में से किसी एक ऑप्शन को सेलेक्ट करना होगा

-आप कोई ऑप्शन सेलेक्ट कर लीजिए और इसके बाद Get Data पर क्लिक करना है इसके बाद आपको लेंन-देंन की पूरी जानकारी मिल जाएगी


गोरखपुर का ये गांव बन गया नंबर वन, जानिए पूरा मामला

गोरखपुर का ये गांव बन गया नंबर वन, जानिए पूरा मामला

जिले के 12 गांवों में सौ फीसद कोविड टीकाकरण हो चुका है। हर व्यक्ति को कोरोना रोधी टीका लगाया जा चुका है। हालांकि अभी ज्यादातर को पहली डोज ही लगाई गई है। इसमें सरदार नगर के आठ व खजनी के चार गांव हैं। इसमें खजनी का रावतडाड़ी गांव नंबर वन है। वहीं सबसे पहले सौ फीसद टीकाकरण हुआ है। वैक्सीन पर्याप्त मिलने लगी है, इसलिए अब ज्यादातर बूथ संचालित किए जा रहे हैं।

गांवों में जाकर लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित कर रही है स्वास्थ्य विभाग की टीमें

स्वास्थ्य विभाग की टीमें गांवों में जाकर लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित कर रही हैं। सरदार नगर के शिवपुर, महुअवा बुजुर्ग, बसडीला, भौवापार, देवकलिया, छपरा मंसूर, जयपुर, देवीपुर तथा खजनी के रावतडाड़ी, गोपालपुर, सरया तिवारी व केवटली में सौ फीसद टीकाकरण हो चुका है। खजनी के रावतडाड़ी गांव का यूनिसेफ की टीम ने निरीक्षण किया है और अब वीडियो बनाने की तैयारी चल रही है।


12 गांवों में सौ फीसद किया गया टीकाकरण

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा.एनके पांडेय ने कहा कि जिले में 12 गांवों में सौ फीसद टीकाकरण किया गया है। वहां के सभी निवासियों को पहली डोज लगा दी गई है। दूसरी डोज भी लगाई जा रही है। लगभग दो दर्जन गांव ऐसे हैं, जहां सौ फीसद टीकाकरण पूरा होने के करीब है।

38741 लोगों को लगाया गया कोरोना रोधी टीका


कोविड टीकाकरण अभियान में 135 बूथों पर 38741 लोगों को कोरोना रोधी टीका लगाया गया। 29851 को पहली व 8890 लोगों को दूसरी डोज दी गई। बूथों पर भीड़ उमड़ी थी।

गीताप्रेस अतिथि भवन में टीकाकरण आज

अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के तत्वावधान में गीताप्रेस रोड स्थित गीताप्रेस अतिथि भवन में आठ व 10 सितंबर को कोरोना रोधी टीका लगाया जाएगा। टीकाकरण सुबह 10 बजे से शुरू होगा। लोगों को कोविशील्ड की पहली व दूसरी डोज दी जाएगी। यह जानकारी महामंत्री राजू लुहारुका ने दी है।