ऑनलाइन गेम के चक्कर में हुआ बलात्कार

ऑनलाइन गेम के चक्कर में हुआ बलात्कार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के बांदा में औनलाइन गेम फ्री फायर (Free Fire) खेलने के दौरान एक नाबालिग लड़की की दोस्ती दूसरे धर्म के एक लड़के से हो गई. दोनों प्रत्येक दिन घंटों गेम खेलने लगे और टेलीफोन पर बात करने लगे. आरोप है कि इसके बाद युवक, नाबालिग लड़की को बहला-फुसला कर कौशाम्बी ले गया और उसे मादक पदार्थ खिलाकर उसका दुष्कर्म किया. इसके साथ ही उसे इस्लाम में परिवर्तित कराने के लिए मदरसे में भी ले गया. मगर पीड़िता एक स्त्री किराएदार की सहायता से उसके चंगुल से निकलने में सफल रही. घर पहुंचकर उसने अपने परिजनों को पूरी घटना बताई.

यह मामला शहर कोतवाली के एक मुहल्ले का है. जहां की 17 वर्षीय लड़की का कुछ महीने पहले औनलाइन गेम फ्री फायर खेलने के दौरान एक मुसलमान पुरुष से दोस्ती हो गई. 30 मई को वह घर से बाजार जाने की बात कहकर निकली और फिर लापता हो गई. लड़की के पिता ने बताया कि एक पुरुष बेटी को बहला फुसलाकर कौशाम्बी ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया. 13 जून को जब पुरुष घर से बाहर गया तो उनकी बेटी दूसरी किरायेदार स्त्री की सहायता से वहां से भाग निकली. लड़की ने अपना मोबाइल स्त्री को बेचा और भागकर अपने सम्बन्धी के घर चित्रकूट पहुंची.  

वहीं, बाजार से न लौटने पर परिवार वालों ने कोतवाली में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई, जिसके बाद पुलिस की टीमें लड़की को तलाश कर रही थी. परिजन बेटी के वापस आने पर कोतवाली पहुंचे और घटना की सूचना पुलिस को दी. अब स्वास्थ्य खराब होने के कारण, परिजन लड़की का इलाज करवा रहे हैं. इसके साथ ही पुलिस ने लड़की का मेडिकल टेस्ट के लिए भेजा है. कोतवाली प्रभारी राजेन्द्र सिंह ने बताया कि शहर के एक मुहल्ले से एक लड़की के परिजनों ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दी थी, पुलिस टीमें तलाश में जुटी थीं, लड़की आ गई है, जिसका मेडिकल कराया जा रहा है. साथ ही न्यायालय में बयान दर्ज कराया जा रहा है जिसके आधार पर आगे की कानूनी कार्रवाई की जाएगी.