पुलिस हिरासत से 8 महीने बाद छूटा मुर्गा, मुर्गों के झगडे को माना गया है अपराध

पुलिस हिरासत से 8 महीने बाद छूटा मुर्गा, मुर्गों के झगडे को माना गया है अपराध

अक्सर आपने इंसान को पुलिस की हिरासत में आते हुए देखा होगा। लेकिन हाल ही में पाकिस्तान से एक बड़ा ही अनोखा केस सामने आया है। यहां पर पाक पुलिस ने कुछ माह पहले कुछ मुर्गों को हिरासत में लिया था, अब उनमें से एक को रिहा कर दिया गया है।  मीडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार , पाकिस्तान के सिंध प्रदेश के दो थानों में 5 मुर्गे पुलिस के गेस्ट बने। इन मुर्ग़ों को मुर्गे की लड़ाई के खेल पर छापेमारी के समय लोगों के साथ पकड़ा गया था। पाकिस्तान में मुर्गों की झगड़े को अपराध करार दिया गया है। इसके लिए एक वर्ष तक की कैद या पांच सौ रुपये का जुर्माना लग सकता है।

8 महीने बाद छूटा मुर्गा:

कुछ माह पहले मुर्गों को लगभग 2 दर्जन लोगों के साथ हिरासत में लिया गया था। सभी प्रतिवादी तो जमानत पर छूट गए। लेकिन मुर्गे मामले प्रोपर्टी की हैसियत से पुलिस के कैद में थे। दरअसल, इन मुर्ग़ों की मालिकाना हक की दावेदारी किसी ने नहीं की थी। ऐसे में जब तक कोर्ट मुर्गों पर कोई निर्णय नहीं सुनाती, तब तक उनकी खैरियत थाने की जवाबदेही थी।

इस केस पर गत दिनों घोटकी के स्थानीय निवासी जफर मीरानी ने सिविल जज की कोर्ट में अपील की कि पुलिस की निरगानी में रह रहे मुर्गे को उन्हें सौंप दिया जाए। जिसके बाद कोर्ट ने पुलिस को मुर्गे को रिहा कर उसके मालिक के हवाले करने का निर्देश दिया है। पुलिस ने मुर्गों को लॉकअप या बाड़े की जगह पर खुले स्थान पर रखा। लेकिन मुर्गों के एक पैर में रस्सी बांधकर रखा गया।


बत्तख ने रविवार के दिन की ऐसी एक्सरसाइज, देख हैरान हो जाएंगे

बत्तख ने रविवार के दिन की ऐसी एक्सरसाइज, देख हैरान हो जाएंगे

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसे देख आप हैरान हो जाएंगे। यह वीडियो कामगारों ( काम करने वाले लोगों ) पर पूरी तरह से लागू होता है जो रविवार के दिन सोचते रहते हैं कि आज का दिन ठहर जाए और न बीते। कभी-कभी तो लोगों की यह भी शिकायत होती है कि आज का दिन ( रविवार का दिन ) बड़ी जल्दी बीत गया है। उन्हें तो बहुत कुछ करना था, लेकिन नहीं कर पाए। अब एक सप्ताह के बाद ही छुट्टी मिलेगी। कुछ ऐसा ही नजारा इस वीडियो में देखने को मिल रहा है। जब बत्तख रविवार को और एन्जॉय करना चाहती है। यह वीडियो देखने में बेहद हास्यस्पद भी है।


इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि एक बत्तख स्वचलित मशीन ( एक्सरसाइज करने वाली रनिंग मशीन ) के सामने खड़ी है। इसके बाद वह उस पर चढ़ती है और जैसे ही वह आगे बढ़ने लगती है, तो वह पीछे आने की कोशिश करती है। इसके लिए वह अपने पैरों को पीछे करती रहती है। यह क्रम चलता रहता है। वीडियो देख ऐसा लगता है, मानो वह आगे नहीं जाना चाहती है।

इस वीडियो को भारतीय वन सेवा के अधिकारी सुशांत नंदा ने सोशल मीडिया ट्विटर पर अपने अकांउट से शेयर किया है। इसके कैप्शन में उन्होंने लिखा है-लोगों का मूड रविवार के दिन कुछ ऐसा ही रहता है। सुशांत नंदा के इस वीडियो को खबर लिखे जाने तक 10 हजार से अधिक लोग देख चुके हैं और 1 हजार से अधिक लोगों ने लाइक किया है। जबकि कुछ लोगों ने कमेंट्स भी किए हैं, जिसमें उन्होंने बत्तख से सहमति जताई है। कुछ लोगों ने बत्तख को मूनवॉकर की संज्ञा दी है।