OMG ! कोरोना वैक्सीन लगवाते ही अपने पैरों पर दौड़ने लगा एक साल से बिस्तर पर पड़ा व्यक्ति

OMG ! कोरोना वैक्सीन लगवाते ही अपने पैरों पर दौड़ने लगा एक साल से बिस्तर पर पड़ा व्यक्ति

कोरोना टीकाकरण अभियान के बीच वैक्सीन को लेकर नए-नए दावे सामने आ रहे हैं। अभी बिहार के एक 85 साल के बुजुर्ग ने दावा किया था कि वैक्सीन लगवाने से उसका पुराना घुटनों का दर्द सही हो गया।

इस बीच झारखंड के 55 वर्षीय दुलार चंद मुंडा ने भी वैक्सीन को लेकर एक दावा ठोक कर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को हैरान कर दिया है।  

दुलार चंद का दावा है कि वह पिछले एक साल से बिस्तर पर पड़े थे। यहां तक कि हिल-डुल भी नहीं पाते थे। लाखों की दवा कराई, लेकिन कोविशील्ड का एक खुराक लेते ही उनमें चमत्कारिक परिवर्तन हुआ और वह वैक्सीन लेने के  तीसरे दिन ही अपने पैरों पर खड़े हो गए। 

इलाज में बिक गई जमीन, मुफ्त की वैक्सीन ने किया कमाल
दुलार चंद मुंडा ने बताया कि चार साल पहले वह सड़क दुर्घटना में बुरी तरह घायल हो गए थे। इसके तीन साल बार उनके शरीर की नसों में कई परेशानियां आ गईं। यहां तक कि बिस्तर से उठना भी मुश्किल हो गया। कई जगह इलाज कराया। लाखों फूंक दिए। जमीन बिक गई, लेकिन उनकी हालत जस की तस ही रही। दुलार चंद का दावा है कि उन्होंने छह जनवरी को कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक ली थी। इसके बाद नौ जनवरी को वह उठ खड़े हुए और अपने पैरों पर चलने लगे। 

रिसर्च का विषय बने दुलार चंद
दुलार चंद मुंडा के दावे ने स्वास्थ्य विशेषज्ञों को भी हैरान कर दिया है। राज्य वैक्सीनेशन प्रभारी राकेश दयाल ने बताया कि जब तक यह नहीं पता चल जाता कि मुंडा को क्या बीमारी थी। उनका किस चीज का इलाज चल रहा था। वैक्सीन ने किस प्रकार रिएक्शन किया, इस विषय पर कुछ भी बोलना ठीक नहीं है। हालांकि, उन्होंने बताया कि रिम्स के एक्सपर्ट इस मामले की जांच करेंगे। 


75 वर्षीय पति ने 65 वर्ष की पत्नी की कर दी हत्या

75 वर्षीय पति ने 65 वर्ष की पत्नी की कर दी हत्या

उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले में 75 वर्षीय पति ने 65 वर्ष की पत्नी को मृत्यु की मर्डर कर दी. आरोपी पति को अपनी पत्नी के चरित्र पर शक था. सुबह के वक़्त जब ग्रामीणों को इस बात की जानकारी मिली, तो मौके पर पहुंची पुलिस ने मृत शरीर को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और चारपाई के नीचे छिपे आरोपी पति को अरेस्ट कर लिया. दरअसल, असोथर थाना क्षेत्र में 75 वर्षीय पति अपनी 65 वर्ष की पत्नी की मर्डर करने के बाद चारपाई के नीचे छिप गया. सुबह पहर जब ग्रामीणों घर के पास से गुजरे तो देखा की स्त्री की मृत शरीर चारपाई पर पड़ी हुई है. जिसके बाद गाँव वालों ने इस घटना की सूचना पुलिस को द
बुधवार की रात लगभग आठ बजे शिवबरन खाना खाकर घर के बाहर बरामदे में सो रहा था. वहीं साइड में चारपाई पर उसकी पत्नी भी सो रही थी. उसने पत्नी पर सोते वक़्त सिर और गले पर कुल्हाड़ी से कई वार किए, जिससे पत्नी की मौके पर ही मृत्यु हो गई. गुरुवार की सुबह जब पड़ोसी वहां से निकले, तो शिवबरन चारपाई के नीचे छिप कर बैठा देखा. पड़ोसी जब चारपाई के निकट पहुंचे तो बुजुर्ग स्त्री का मृत शरीर पड़ा देख सन्न रह गए. स्त्री के गले मे धारदार हथियार से वार किये जाने के चिन्ह पाए गए थे. ग्रामीणों ने घर के भीतर सो रहे बेटे को घटना की जानकारी देते हुए पुलिस को सूचित किया, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी पति को हिरासत में लेकर मृत शरीर को पोस्टमार्टम के लिए पहुंचा दिया.

पूछताछ के दौरान आरोपी पति ने बताया कि स्त्री किसी के घर भी जाती थी, तो वह (पति) उसके साथ जाता था और इसी बात को लेकर प्रत्येक दिन दोनों के बीच टकराव और हाथापाई भी हुआ करता था, जिससे आजिज आकर उसने अपने पत्नी को धारदार हथियार से वार कर उसकी मर्डर कर दी. दोनों के 7 बच्चे हैं, जिसमें से पांच का शादी हो चुका है. पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह ने बताया कि असोथर थाना क्षेत्र के सरवल गांव में पति ने पत्नी को धारदार हथियार से वार कर मार डाला, जांच के दौरान यह पता चला की वह अपनी पत्नी पर शक करता था, जिसको लेकर उसने अपनी पत्नी की मर्डर कर डाली. पुलिस ने हत्यारे पति को अरेस्ट कर आगे की कार्रवाई में जुट गई है.