दुष्कर्म पीड़िता के साथ थाने के अंदर बलात्कार

दुष्कर्म पीड़िता के साथ थाने के अंदर बलात्कार

लखनऊ :उत्तर प्रदेश के ललितपुर में दुष्कर्म पीड़िता के साथ थाने के अंदर बलात्कार किए जाने का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा था कि फतेहपुर से दुष्कर्म पीड़िता द्वारा ख़ुदकुशी किए जाने का मामला सामने आ गया है. फतेहपुर के चांदपुर थानाक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले एक गांव की निवासी नाबालिग दलित लड़की ने बलात्कार के एक दिन बाद यानी बुधवार को जहर खा लिया. जिससे दुष्कर्म पीड़िता की मौके पर मौत हो गई. रेप पीड़िता की मौत के बाद हरकत में आई पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट कर लिया है.

फतेहपुर के SP राजेश कुमार सिंह ने कहा कि 15 साल की दलित लड़की मंगलवार शाम अपने गांव से थोड़ी दूर पर शौच करने के लिए गई थी, इसी दौरान गांव के एक युवक ने उसके साथ कथित रूप से दुष्कर्म किया. पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह ने कहा कि जब लड़की देर रात तक घर वापस नहीं लौटी, तो उसके माता-पिता ने उसकी खोजबीन शुरू की और उसे जंगल में अस्त-व्यस्त अवस्था में पाया. परिजन उसे डॉक्टर के पास ले गए और उपचार के बाद घर वापस ले आए. बच्ची ने बुधवार सुबह मायूस होकर कोई जहरीला पदार्थ खा लिया और उपहार के दौरान उसने दम तोड़ दिया. SP राजेश कुमार सिंह ने बताया कि लड़की के माता-पिता की शिकायत पर केस दर्ज कर आरोपी युवक को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया गया है. साथ ही बच्ची के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए पहुंचा दिया गया है.

थाने के अंदर बलात्कार:-

इससे पहले ललितपुर में दुष्कर्म पीड़िता के साथ थाने के अंदर बलात्कार की घटना को अंजाम दिया गया था. दुष्कर्म पीड़िता का बयान दर्ज करने के बहाने पाली थाने के इंस्पेक्टर सहित 6 लोगों ने उसका सामूहिक बलात्कार किया था. इस मामले में इंस्पेक्टर तिलकधारी सरोज को अरेस्ट कर लिया गया है. साथ ही पाली थाने के 29 पुलिसकर्मियों को लाइन अटैच कर जाँच शुरू कर दी गई है.


75 वर्षीय पति ने 65 वर्ष की पत्नी की कर दी हत्या

75 वर्षीय पति ने 65 वर्ष की पत्नी की कर दी हत्या

उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले में 75 वर्षीय पति ने 65 वर्ष की पत्नी को मृत्यु की मर्डर कर दी. आरोपी पति को अपनी पत्नी के चरित्र पर शक था. सुबह के वक़्त जब ग्रामीणों को इस बात की जानकारी मिली, तो मौके पर पहुंची पुलिस ने मृत शरीर को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और चारपाई के नीचे छिपे आरोपी पति को अरेस्ट कर लिया. दरअसल, असोथर थाना क्षेत्र में 75 वर्षीय पति अपनी 65 वर्ष की पत्नी की मर्डर करने के बाद चारपाई के नीचे छिप गया. सुबह पहर जब ग्रामीणों घर के पास से गुजरे तो देखा की स्त्री की मृत शरीर चारपाई पर पड़ी हुई है. जिसके बाद गाँव वालों ने इस घटना की सूचना पुलिस को द
बुधवार की रात लगभग आठ बजे शिवबरन खाना खाकर घर के बाहर बरामदे में सो रहा था. वहीं साइड में चारपाई पर उसकी पत्नी भी सो रही थी. उसने पत्नी पर सोते वक़्त सिर और गले पर कुल्हाड़ी से कई वार किए, जिससे पत्नी की मौके पर ही मृत्यु हो गई. गुरुवार की सुबह जब पड़ोसी वहां से निकले, तो शिवबरन चारपाई के नीचे छिप कर बैठा देखा. पड़ोसी जब चारपाई के निकट पहुंचे तो बुजुर्ग स्त्री का मृत शरीर पड़ा देख सन्न रह गए. स्त्री के गले मे धारदार हथियार से वार किये जाने के चिन्ह पाए गए थे. ग्रामीणों ने घर के भीतर सो रहे बेटे को घटना की जानकारी देते हुए पुलिस को सूचित किया, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी पति को हिरासत में लेकर मृत शरीर को पोस्टमार्टम के लिए पहुंचा दिया.

पूछताछ के दौरान आरोपी पति ने बताया कि स्त्री किसी के घर भी जाती थी, तो वह (पति) उसके साथ जाता था और इसी बात को लेकर प्रत्येक दिन दोनों के बीच टकराव और हाथापाई भी हुआ करता था, जिससे आजिज आकर उसने अपने पत्नी को धारदार हथियार से वार कर उसकी मर्डर कर दी. दोनों के 7 बच्चे हैं, जिसमें से पांच का शादी हो चुका है. पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह ने बताया कि असोथर थाना क्षेत्र के सरवल गांव में पति ने पत्नी को धारदार हथियार से वार कर मार डाला, जांच के दौरान यह पता चला की वह अपनी पत्नी पर शक करता था, जिसको लेकर उसने अपनी पत्नी की मर्डर कर डाली. पुलिस ने हत्यारे पति को अरेस्ट कर आगे की कार्रवाई में जुट गई है.