पुलिस के हत्थे चढ़ा 'सीरियल मोलेस्टर', मासूम बच्चियों को देख खो बैठता था आपा और फिर

पुलिस के हत्थे चढ़ा 'सीरियल मोलेस्टर', मासूम बच्चियों को देख खो बैठता था आपा और फिर

नयी दिल्ली: देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पुलिस ने एक सीरियल मोलेस्टर को अरेस्ट कर लिया है जो छोटी बच्चियों को शिकार बनाता था. इस सीरियल मोलेस्टर पर 8 केस दायर हैं. इस सीरियल मोलेस्टर के कारण क्षेत्र में दहशत थी.

आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि दिल्ली की डिफेंस कॉलोनी पुलिस स्टेशन की टीम ने सीरियल मोलेस्टर को अरेस्ट किया है. पुलिस 5वीं कक्षा में पढ़ने वाली मासूम के साथ बलात्कार के आरोप में सीरियल मोलेस्टर को अरेस्ट किया है. क्रिमिनल की पहचान 27 साल के यश के रूप में हुई है जो दिल्ली के पहाड़गंज का रहवासी है. क्रिमिनल यश एक इलेक्ट्रिशियन है.

वही क्रिमिनल से पूछताछ में खुलासा हुआ है कि उसके विरूद्ध दिल्ली के भिन्न-भिन्न थानों में पॉक्सो एक्ट के कई केस दर्ज हैं. बता दे कि दिल्ली के डिफेंस कॉलोनी थाने में 23 नवंबर को 10 वर्षीय बच्ची के परिवार वालों ने केस दर्ज करवाया था. कम्पलेन के मुताबिक, बच्ची घर के पास खेल रही थी तभी क्रिमिनल बच्ची को जबरन अपने साथ ले गया तथा घिनौनी वारदात को अंजाम दिया. जिसके पश्चात् पुलिस ने क्रिमिनल के विरूद्ध आईपीसी (IPC) की धारा 363, 354, 376, 506 तथा POCSO एक्ट के अनुसार केस दर्ज किया था. कम्पलेन दर्ज करने के पश्चात् पुलिस ने क्रिमिनल को अरैस्ट कर लिया.


इतने साल की बच्ची के साथ हुआ दुष्कर्म , गार्ड हुआ गिरफ्तार

इतने  साल की बच्ची के साथ हुआ  दुष्कर्म , गार्ड  हुआ गिरफ्तार

विस्तार केंद्रशासित प्रदेश दादर और नगर हवेली, दमन और दीव के दमन जिले में एक सरकारी अस्पताल में 11 साल की लड़की से दुष्कर्म करने के आरोप में एक सुरक्षा गार्ड को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी। दमन थाने के एक अधिकारी ने बताया कि बच्ची अपनी मां के साथ थी, जिसका अस्पताल में इलाज चल रहा था। यह घटना 11 जनवरी को मारवाड़ सरकारी अस्पताल में हुई थी। आरोपी ने कथित तौर पर लड़की को पानी देने के बहाने सुनसान कमरे में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया।

अधिकारी ने कहा कि अपराध के बारे में जानने के बाद एक पुलिस टीम अस्पताल पहुंची। सुरक्षा गार्ड फरार था, इसलिए हमने कई दलों का गठन किया और उसे बस अड्डे से तब पकड़ लिया जब वह कल रात जिले से भागने की कोशिश कर रहा था। उन्होंने बताया कि आरोपी की पहचान प्रशांत कुमार के रूप में हुई है जो बिहार का रहनेवाला है।

अधिकारी ने बताया कि आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376, 376 (ए) (बी) और यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि स्थानीय अदालत ने आरोपी को पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है। आगे की जांच जारी है।