UP की ये अहम परियोजनाएं: योगी ने कसे अधिकारियों के पेंच

UP की ये अहम परियोजनाएं: योगी ने कसे अधिकारियों के पेंच

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यपनाथ पश्चिमी उत्तर प्रदेश के विकास की गति और तेज करना चाहते हैं। इसलिए वह इस क्षेत्र का दौरा करने के साथ ही समय समय पर मंडलीय समीक्षा बैठक कर इसके विकास में आ रही समस्याओं के निदान के लिए अधिकारियों को देर रात तक दिशा निर्देष देते रहते हैं। वह मोदी सरकार की योजनाओं और प्रदेश सरकार की योजनाओं को धरातल पर लाने के लिए हर संभव कोशिश में जुटे हैं।

सीएम ने लंबित कार्यों के शीघ्र निस्तारण के दिए निर्देश
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुरादाबाद मण्डल के शासन स्तर पर लम्बित प्रकरणों पर शीघ्र निर्णय लेकर निस्तारण को कहा है साथ ही एक नोडल अधिकारी तैनात करने को भी कहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अवगत कराया गया कि 50 करोड़ रुपए से अधिक की लागत की 17 परियोजनाएं निर्माणाधीन हैं। मध्य गंगा नहर परियोजना का निर्माण कार्य 65 प्रतिशत पूर्ण हो चुका है।

इसके अलावा, राजकीय मेडिकल कॉलेज बिजनौर, नगीना-रायपुर-कोटकादर-कोटद्वार मार्ग, सम्भल तहसील मुख्यालय हेतु बाईपास, बदायूं-बिल्सी-बिजनौर मार्ग सहित अन्य परियोजनाओं का निर्माण कार्य प्रगति पर है। जिलाधिकारी ने कहा कि मुरादाबाद में 10 से 50 करोड़ रुपए के मध्य के लागत की 14 परियोजनाओं पर कार्य चल रहा है। योगी आदित्यनाथ ने मुरादाबाद में स्मार्ट सिटी व मण्डल के सभी जनपदों में अमृत योजना के कार्यों को समयबद्ध ढंग से पूरा करने को कहा है।

उन्होंने कहा कि जिन निर्माण संस्थाओं के पास मैन पावर नहीं है, उनके द्वारा संचालित किए जा रहे निर्माण कार्यों को समयबद्ध ढंग से पूर्ण कराए जाने के लिए संस्थाओं द्वारा मैन पावर की व्यवस्था की जाए। उन्होंने सभी निर्माण कार्यों को समयबद्ध व गुणवत्तापूर्ण ढंग से पूरा कराने को कहा है। उन्होंने कहा कि कोई भी निर्माण कार्य लम्बित न रहे, क्योंकि निर्माण परियोजनाओं में विलम्ब होने से विकास कार्य बाधित होते हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पर्यटन की सम्भावनाओं वाले स्थलों को विकसित किए जाने से बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर उत्पन्न होंगे। जनपद स्तर पर जिला प्रशासन और जनप्रतिनिधियों में बेहतर समन्वय हो। उन्होंने समयबद्ध ढंग से जनहित व कल्याणकारी योजनाओं को पूरा कर जनता को लाभान्वित किए जाने को कहा।

मुख्यमंत्री ने रामपुर के ग्राम डूंगरपुर स्थित राष्ट्रीय प्रशिक्षण संस्थान को गन्ना किसानों आदि के प्रशिक्षण के लिए विकसित किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने जनपद सम्भल में सीएमएस एवं डिप्टी सीएमओ के रिक्त पदों पर तत्काल तैनाती के निर्देश दिए। उन्होंने बिजनौर जनपद में पीएसी बटालियन सम्बन्धी कार्य की औपचारिकताएं पूर्ण करने, डिग्री कॉलेज के कार्य को तेजी से आगे बढ़ाने तथा कोसी नहर प्रणाली की समीक्षा करते हुए इससे जुड़े कार्यों को आगे बढ़ाने को भी कहा है।